Top
राष्ट्रीय

अदालत में पेश अर्णब को कोर्ट ने दी चेतावनी, मत बनाओ अजीबोगरीब भाव, चुपचाप रहो सीधे खड़े

Janjwar Desk
5 Nov 2020 5:04 AM GMT
अदालत में पेश अर्णब को कोर्ट ने दी चेतावनी, मत बनाओ अजीबोगरीब भाव, चुपचाप रहो सीधे खड़े
x

जनज्वार। डिजाइनर सुसाइड केस में अर्णब गोस्वामी को कल 4 नवंबर को बॉम्बे हाईकोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। कल कोर्ट में पेशी के दौरान अर्णब की हरकतों को देख सुनवाई कर रहे जज भी आजिज आ गये और उन्होंने अर्णब को सीधे खड़े रहने और अजीबोगरीब भाव न बनाने की हिदायत दे डाली।

महाराष्ट्र में अलीबाग़ के ज़िला न्यायालय ने रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ़ अर्नब गोस्वामी को दो अन्य अभियुक्तों के साथ 18 नवंबर तक के लिए 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सुनवाई के बाद भेजा गया है।

गौरतलब है कि मुंबई की रायगढ़ पुलिस ने बुधवार 4 नवंबर की सुबह रिपब्लिक टीवीके हैड गोस्वामी और दो अन्य लोगों को मुंबई में 52 वर्षीय इंटीरियर डिज़ाइनर अन्वय नाइक को 2 साल पहले ख़ुदकुशी के लिए उकसाने के लिए आरोपित के बतौर गिरफ्तार किया है।

गौरतलब है कि कल बुधवार 4 नवंबर की सुबह से ही मुंबई और रायगढ़ में अर्णब की गिरफ्तारी के बाद हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। अर्णब ने पुलिस पर मारपीट और अभद्रता का आरोप लगाया, जिसके बाद तमाम भाजपा नेता उनके समर्थन में बयानबाजी करने लगे। ये वही भाजपा के दिग्गज नेता हैं जिनकी किसी छोटे पत्रकार की गिरफ्तारी तो छोड़िये दलित-गरीब बच्चियों के साथ हुई नृशंसता के बाद जुबान तक नहीं खुलती।

बीबीसी में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक,जब गिरफ्तारी के बाद अर्णब को कोर्ट में पेश किया गया तो उन्होंने कोर्ट से कहा कि पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। अर्णब ने गिरफ्तारी के वक्त भी यह बात चिल्ला-चिल्लाकर मीडिया में कही, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। अर्णब के आरोपों के बाद कोर्ट ने अर्नब की दोबारा मेडिकल जाँच कराने का आदेश दिया। कोर्ट के आदेश के बाद दोबारा अर्णब की मेडिकल जांच करायी गयी, जिसके बाद दोबारा पुलिस उन्हें कोर्ट लेकर पहुंची।

अर्णब की दोबारा हुई जाँच की मेडिकल रिपोर्ट पर कोर्ट में डेढ़ घंटे सुनवाई चली। इस दौरान अर्णब अपनी अजीबोगरीब हरकतों से बाज नहीं आये। दोबारा मेडिकल जाँच कराने के बाद अर्नब को जब कोर्ट में पेश किया गया तो उनकी हरकतों को देखते हए कोर्ट ने उन्हें सख्त हिदायत दी तो सीधे खड़े रहो और बिल्कुल भी अजीबोगरीब भाव न बनाओ।

अदालत की इस वार्निंग के बाद अर्णब शां​ति से बैठे, जबकि कोर्ट की चेतावनी से पहले तक अर्णब कुछ उसी अंदाज में चिल्ला रहे थे, जैसे वो अपने स्टूडियो में चिल्लाते हैं। उन्हें स्टूडियो स्टाइल में चीखते-चिल्लाते देख कोर्ट को फटकार लगानी पड़ी।

Next Story

विविध

Share it