राष्ट्रीय

दूसरी लहर में 719 डॉक्टरों की कोरोना से हुई मौत, बिहार और दिल्ली में सबसे सर्वाधिक चिकित्सकों की गयी जान

Janjwar Desk
12 Jun 2021 10:56 AM GMT
दूसरी लहर में 719 डॉक्टरों की कोरोना से हुई मौत, बिहार और दिल्ली में सबसे सर्वाधिक चिकित्सकों की गयी जान
x

पहली की अपेक्षा कोरोना की दूसरी लहर में सबसे अधिक डॉक्टरों ने गंवाई है जान.आईएमए का खुलासा.

इंडियन मेडिकल एसोशिएसन यानी आइएमए के अनुसार, कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत से अब तक कुल 1,467 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है। महामारी की पहली लहर के दौरान 748 डॉक्टरों की जान चली गई थी...

जनज्वार ब्यूरो। भारत में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर का कहर अभी थमा नहीं है। महामारी की पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर ने अधिक तबाही मचाई है। कोरोना वायरस ने करोड़ों को अपनी चपेट में लिया और लाखों लोगों की जिंदगियां लील ली। कोरोना संक्रमित मरीजों की जान बचाते हुए डॉक्टर्स भी अपनी जान गंवा रहे हैं।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में अब तक 719 डॉक्टर्स अपनी जान गंवा चुके हैं। जिनमें सबसे अधिक बिहार और दिल्ली में डॉक्टरों की में डॉक्टरों ने अपनी जान गंवाई है।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के मुताबिक, कोरोना की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा बिहार में 111 डॉक्टरों और दिल्ली में 109 डॉक्टरों की मौत हुई है, जबकि कोरोना की वजह से उत्तर प्रदेश में 79 और पश्चिम बंगाल में 63 डॉक्टरों की जान गई है।

इंडियन मेडिकल एसोशिएसन यानी आइएमए के अनुसार, कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत से अब तक कुल 1,467 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है। महामारी की पहली लहर के दौरान 748 डॉक्टरों की जान चली गई थी।

आइएमए के मुताबिक कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान सबसे अधिक 30 से 55 वर्ष के बीच के डॉक्टरों ने अपनी जान गंवाई है, जिसमें रेजिडेंट डॉक्टर और इंटर्न के रूप में काम करने वाले डॉक्टर भी शामिल हैं। इन डॉक्टरों के अलावा, कई गर्भवती महिला डॉक्टरों ने भी ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवाई है।

Next Story

विविध

Share it