राष्ट्रीय

Delhi News : संसद भवन से चंद दूरी पर पुलिस-बदमाशों के बीच मुठभेड़, 3 गिरफ्तार, दिला दी इस बात की याद

Janjwar Desk
1 April 2022 2:37 AM GMT
संसद भवन से चंद दूरी पर पुलिस-बदमाशों के बीच मुठभेड़, 3 गिरफ्तार, दिला दी इस बात की याद
x

संसद भवन से कुछ दूरी पर दिल्ली पुलिस और गैंगस्टर के बीच मुठभेड़।

Delhi News : 13 दिसंबर 2001 को संसद पर हुए आतंकी हमले में संसद भवन के गार्ड, दिल्ली पुलिस के जवान समेत कुल 9 लोग शहीद हुए थे।

नई दिल्ली। देश की राजधानी में स्थित संसद भवन ( Parliament House ) से कुछ ही दूरी पर गुरुवार या​नि 31 मार्च देर शाम पुलिस और गैंगस्टर के बीच मुठभेड़ ( encounter between police and gangstar ) से पुलिस और सतर्कता एजेंसियों के बीच खलबली मच मई। कुछ देर के लिए तो लोगों को ऐसा लगा कि कहीं दिसंबर, 2001 को संसद भवन पर हमले जैसी कोई साजिश तो नहीं! इस मामले में दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) द्वारा स्पष्टीकरण आने के बाद सबकुछ सामान्य हो गया और इस तरह की चर्चा पर भी ब्रेक लग गया।

दरअसल, दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) के स्पेशल सेल ने गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ( gangster lawrence bishnoi ) और काला राणा गैंग ( gangster kala rana ) के तीन गुर्गों को एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी से ठीक पहले पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ गुरुवार देर शाम नई दिल्ली बुद्धा गार्डन इलाके में हुई थी। मुठभेड़ के बाद गैंगस्टर विवेक पुरी, अश्विनी कुमार और प्रशांत को पकड़ा गया है। इनके खिलाफ दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। बदमाशों के पास से तीन पिस्टल और 13 कारतूस बरामद किए गए हैं।

इस घटना के बारे में स्पेशल सेल के डीसीपी जमसीत सिंह ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली थी कि बुद्धा गार्डन के पास लॉरेंस बिश्नोई गैंग के तीन लोग स्कॉर्पियो कार में आने वाले हैं। तभी इंस्पेक्टर शिव कुमार और कर्मवीर के नेतृत्व में टीम बनाई गई। कार को आता देख जब उनको रुकने का इशारा किया तो टीम पर कार को चढ़ाने की कोशिश की। जब पुलिस टीम ने पीछा करते हुए उनको रोका तो कार सवार बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। इसके जवाब में फायरिंग करते हुए पुलिस ने बदमाशों को काबू कर लिया। तलाशी में तीनों के पास से तीन सेमी-ऑटोमैटिक पिस्टल और 13 कारतूस बरामद हुए हैं। गिरफ्तार गैंगस्टर पिछले चार साल से लॉरेंस बिश्नोई और काला राणा के गिरोह से सक्रिय रूप से जुड़े थे।

2018 में बदमाश विवेक पुरी और प्रशांत काला राणा ने अपने 6 अन्य साथियों के संग मिलकर हरियाणा के अंबाला में हत्या, हत्या के प्रयास और डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। बदमाशों ने ज्वैलरी शोरूम को लूटने के दौरान अंधाधुंध फायरिंग कर एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी। एक अन्य को गंभीर रूप से घायल कर दिया था। विवेक पुरी अपने साथियों के संग बिहार के गोपालगंज जिले में रंगदारी के 4 मामलों में वांटेड था। गैंगस्टर पुरी ने बिहार के कई बिजनेसमैन, ज्वैलर्स, दुकान मालिकों, मेडिकल स्टोर संचालकों से लॉरेंस बिश्नोई के नाम से पिछले 4 महीनों के दौरान रंगदारी मांगी थी। पुरी बिहार, पंजाब और हरियाणा में रंगदारी और डकैती, हत्या, हत्या के प्रयास जैसे मामलों में शामिल रहा है।

Delhi News : बता दें कि 13 दिसंबर 2001 को संसद पर हुए आतंकी हमले ( Terrorist Attack ) में संसद भवन ( Parliament House ) के गार्ड, दिल्ली पुलिस के जवान समेत कुल 9 लोग शहीद हुए थे। उस दिन एक सफेद एंबेसडर कार में आए पांच आतंकवादियों ने 45 मिनट में लोकतंत्र के सबसे बड़े मंदिर को गोलियों से छलनी करके पूरे हिंदुस्तान को झकझोर कर रख दिया था।

Next Story

विविध