दिल्ली

AAP MLA Amanatullah Khan की पत्नी शफिया ने मोदी को बताया 'जालिम', लोगों से की इस बात की अपील

Janjwar Desk
13 May 2022 4:03 AM GMT
AAP MLA  Amanatullah Khan की पत्नी शफिया ने मोदी सरकार को बताया जालिम, लोगों से की इस बात की अपील
x

AAP MLA Amanatullah Khan की पत्नी शफिया ने मोदी सरकार को बताया जालिम, लोगों से की इस बात की अपील

एक दिन पहले एमसीडी की कार्रवाई का विरोध करने व सरकारी कामकाज में बाधा डालने के आरोप में आप विधायक अमानतुल्ला खान ( AAP MLA Amanatullah Khan ) को ​दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

Delhi News : दिल्ली में अतिक्रमण और अवैध निर्माण ( MCD anti encroachment drive ) के खिलाफ दिल्ली नगर निगम का ध्वस्तीकरण की कार्रवाई जारी है। एमसीडी ( MCD ) की कार्रवाई का विरोध करने व सरकारी कामकाज में बाधा डालने के आरोप में आप विधायक अमानतुल्ला खान ( Amantulla Khan ) को ​दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आप विधायक की गिरफ्तारी से नाराज अमानतुल्ला खान की पत्नी शफिया ( Shafia ) ने ट्विटकर मोदी सरकार ( Modi Government ) जालिम करार दिया है।

आप विधायक ने मदनपुर खादर इलाके में दिल्ली नगर निगम द्वारा अतिक्रमण हटाने के अभियान के दौरान एसडीएमसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था।

आवाम अपने विधायक के साथ खड़ी है

आम आदमी पार्टी (Aam Admi Party) के विधायक अमानतुल्ला खान (Amanatullah Khan) को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) द्वारा गिरफ्तार करने के कुछ घंटों बाद उनकी पत्नी शफिया ने ट्विटकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने केंद्र सरकार को निर्दयी बताया है। साथ ही उन्‍होंने ओखला के लोगों से विधायक की गिरफ्तारी का विरोध करने के लिए शुक्रवार को अपनी दुकानें बंद रखने की भी अपील की है। आप विधायक के ट्विटर हैंडल पर अमानतुल्ला की पत्नी शफिया ने कहा कि अमानुतल्लाह खान को जनता की आवाज़ बुलंद करने पर सलाखों के पीछे भेजा गया है। ओखला की आवाम से मेरी गुजारिश है कि गिरफ्तारी के विरोध में कल सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक अपनी दुकानों को बंद रखें। ताकि हम जालिम भाजपा सरकार को बता सकें कि आवाम अपने विधायक के साथ खड़ी है।

बता दें कि SDMC ने गुरुवार को विष्णु गार्डन के ख्याला, मदनपुर खादर, रोहिणी और चांद नगर इलाके सहित पश्चिमी दिल्ली के कई इलाकों में बुलडोज़र चलाए। इससे पहले मदनपुर खादर इलाके में भी अभियान चलाया गया, जहां लोगों ने इस कदम का विरोध किया था।

(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू-ब-रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story

विविध