Top
आजीविका

'बाबा का ढाबा' फेम कांता प्रसाद बोले यूट्यूबर पर पैसे के घोटाले का हमारा आरोप हुआ गलत साबित हुए तो मांग लेंगे माफी

Janjwar Desk
3 Nov 2020 11:25 AM GMT
बाबा का ढाबा फेम कांता प्रसाद बोले यूट्यूबर पर पैसे के घोटाले का हमारा आरोप हुआ गलत साबित हुए तो मांग लेंगे माफी
x
यूट्यूबर गौरव वासन ने कहा कि मेरे खाते में जो भी पैसा आया वो सारा पैसा बाबा को दिया है, पुलिस ने मुझसे मेरे स्टेटमेंट मांगे थे जो दे चुका हूं, बाबा को जब सच पता लगेगा तो आखिर में इसका परिणाम सही होगा....

नई दिल्ली। दक्षिण दिल्ली के मालवीय नगर में स्थित 'बाबा का ढाबा' के मालिक 80 वर्षीय कांता प्रसाद ने फूड ब्लॉगर गौरव वासन पर पैसों की हेराफेरी का आरोप लगाया और उनके खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है। हालांकि कांता प्रसाद का कहना है कि, 'जांच में गलत साबित हुए तो माफी मांग लेंगे।' कांता प्रसाद ने बताया, 'गौरव ने मुझे धोखा दिया। गौरव ने मेरी बहुत मदद की, लेकिन उन्होंने मेरा खाता देने के बजाय अपना खाता दे दिया।'

कांता प्रसाद से जब पूछा गया कि भविष्य में जांच में आरोप गलत साबित हुए तो क्या करेंगे? इसके जवाब में कांता प्रसाद ने कहा कि, 'समय आने पर देखेंगे क्या करना है। अभी फिलहाल जांच हो रही है। मुझे माफी मांगने में कोई हिचकिचाहट नहीं होगी। क्योंकि गौरव ने हमारा भला किया था, लेकिन एक छोटी सी बात के लिए वो खुद फंस गये।'

'जांच में गलत साबित हुए तो हम माफी मांग लेंगे, क्योंकि हमें पश्चाताप रहेगा, क्योंकि अगले व्यक्ति ने हमारी मदद की थी।'

हालांकि यूट्यूबर गौरव वासन ने इन आरोपों को गलत बताया है। उनका कहना है कि 'इन आरोपो में बिल्कुल सच्चाई नहीं है, झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं। छवि धूमिल करने की कोशिश की जा रही है। ये सच होता तो मैं अपनी बैंक स्टेटमेंट सही प्रूफ करने के लिए नहीं आता।'

'मेरे खाते में जो भी पैसा आया वो सारा पैसा बाबा को दिया है। पुलिस ने मुझसे मेरे स्टेटमेंट मांगे थे जो दे चुका हूं। बाबा को जब सच पता लगेगा तो आखिर में इसका परिणाम सही होगा।'

'मैं गलत साबित नहीं हो सकता क्योंकि मेरे पास बैंक स्टेटमेंट है और 25 लाख अकाउंट में होंगे तब गलत साबित होउंगा।'

दरअसल बाबा का ढाबा मालिक कांता प्रसाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। जिसमें उन्होंने लॉकडाउन के दौरान दुकान न चल पाने से आर्थिक तंगी को लेकर अपनी व्यथा बतायी थी। वीडियो वायरल होने के बाद देशभर से लोगों ने कांता प्रसाद को मदद पहुंचाई थी।

Next Story

विविध

Share it