दिल्ली

बुराड़ी मैदान में पीने का पानी और लंगर की व्यवस्था, लेकिन ठहरने के लिए कोई टेंट नहीं

Janjwar Desk
27 Nov 2020 3:20 PM GMT
बुराड़ी मैदान में पीने का पानी और लंगर की व्यवस्था, लेकिन ठहरने के लिए कोई टेंट नहीं
x
शिरोमणी अकाली कल के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के जनरल सेक्रेटरी ने बताया कि 'मैं 2 बजे यहां आया था, 5 घंटे तक यहां 5 पोल लाइट तक नहीं लगी, पुलिस ने क्या व्यवस्था की हुई है, एक दरी तक इन्होंने बिछा कर नहीं रखी है....

बुराड़ी मैदान में पीने का पानी और लंगर की व्यवस्था, लेकिन ठहरने के लिए कोई टेंट नहींकृषि कानून के विरोध में किसानों ने दिल्ली चलो का आहवान किया और सिंघु बॉर्डर पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया, वहीं टिकरी बॉर्डर पर भी किसानों का प्रदर्शन देखा गया। हालांकि किसानों को शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने की अनुमति बुराड़ी ग्राउंड में मिल गई है। जिसको लेकर बुराड़ी ग्राउंड में किसानों के लंगर और पीने का पानी और अन्य व्यवस्था की जा रही है। लेकिन किसानों के ठहरने के लिए किसी तरह का कोई टेंट नहीं लगा है।

बुराड़ी के निरंकारी मैदान में पहुंचे राघव चड्ढा ने बताया, 'हमारे किसान भाई बहन देश के कोने कोने से दिल्ली आ रहे हैं। मोदी सरकार के किसान बिल का विरोध करने। इस मैदान में आने की अनुमति मिल गई है, उसके लिए जो भी जरूरतें हैं, चाहे वो पानी टैंकर हो, खान पान की व्यवस्था या शौचलाय हो। जितनी भी चीजें हैं वो अरविंद केजरीवाल की सरकार करवा रही है। सारे अधिकारी, तमाम विधायक गण सभी व्यवस्थाओं पर नजर बनाये हुए हैं।'

उधर दूसरी ओर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से भी 5 हजार लोगों के लिए लंगर की व्यवस्था की गई है। वहीं कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा भी व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचे हुए हैं।

शिरोमणी अकाली कल के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के जनरल सेक्रेटरी ने बताया, 'मैं 2 बजे यहां आया था। 5 घंटे तक यहां 5 पोल लाइट तक नहीं लगी। पुलिस ने क्या व्यवस्था की हुई है। एक दरी तक इन्होंने बिछा कर नहीं रखी है।'

'बस हमारी कमेटी ने लंगर की व्यवस्था की है। दिल्ली और केंद्र सरकार की तरफ से कोई व्यवस्था नहीं की गई है, बस मीडिया के जरिये कह रहें है कि किसानों के लिए व्यवस्था की है।'

बुराड़ी के निरंकारी मैदान में प्रदर्शन करने की अनुमति मिलने के बाद सिंघु बॉर्डर पर मौजूद किसानों ने बुराड़ी मैदान न जाने का फैसला लिया है। उनका मानना है ग्राउंड में जाने के बाद सरकार उनकी तकलीफे नहीं समझेगी। किसानों के मुताबिक प्रदर्शन जारी रहेगा।

दरअसल दिल्ली से सटे हरियाणा और यूपी के बॉर्डर से दिल्ली में अपनी आवाज बुलंद करने के लिए सैंकड़ों की संख्या में आने वाले किसानों को सीमा पर ही रोका हुआ है। कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं।

इस बीच दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ईश सिंघल ने कहा कि किसान नेताओं से बातचीत के बाद दिल्ली पुलिस ने किसानों को बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन की परमिशन दे दी है। साथ ही उन्होंने सभी किसानों से शांति बनाये रखने की अपील की है।

बुराड़ी के निरंकारी मैदान में इस वक्त सैकड़ों की संख्या में पुलिस बल मौजूद है। इधर सुरक्षा व्यवस्था बरकरार रहे, जिसके लिए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

Next Story

विविध

Share it