दिल्ली

किसान आंदोलन : दिल्ली पुलिस ने 80 साल के पूर्व फौजी को भी हिंसा फैलाने के आरोप में कर लिया गिरफ्तार

Janjwar Desk
2 Feb 2021 4:14 AM GMT
किसान आंदोलन : दिल्ली पुलिस ने 80 साल के पूर्व फौजी को भी हिंसा फैलाने के आरोप में कर लिया गिरफ्तार
x

File photo

दिल्ली पुलिस ने 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा फैलाने के आरोप में वैसे वरिष्ठ नागरिकों व बुजुर्गाें को भी गिरफ्तार किया है जो शारीरिक रूप से उसके लिए सक्षम नहीं हैं। गिरफ्तार किए गए 122 लोगों में कई लोग 80 व 70 साल की उम्र के हैं...

जनज्वार। किसान आंदोलन के दौरान 26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर मार्च को लेकर कुछ तत्वों द्वारा की गयी हिंसा को लेकर पुलिस की कार्रवाई जारी है। अबतक दिल्ली पुलिस इस मामले में 44 एफआइआर दर्ज कर चुकी है और 122 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने 54 किसान नेताओं को व 122 ट्रैक्टर मालिकों को भी नोटिस भेजा है। दिल्ली पुलिसी ने हिंसा मामले में कई ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया है जो उम्र के आखिरी पड़ाव पर है और 70 व 80 साल से अधिक के हैं।

दिल्ली पुलिस ने ऐसे ही एक पूर्व फौजी किसान पर मुकदमा दर्ज किया है और उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। पंजाब के फतेहगढ के रहने वाले पूर्व फौजी गुरुमुख सिंह को पुलिस ने दिल्ली में हिंसा फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। 26 जनवरी की हिंसा के 29 जनवरी को मुखर्जी नगर थाने में दर्ज की गयी एफआइआर में उनका नाम शामिल किया गया था। वे जब से किसान आंदोलन आरंभ हुआ तब से उसमें शामिल हो रहे थे।

उनके गांव के सरपंच नृपेंद्र सिंह के अनुसार, गुरुमुख सिंह एक रिटायर्ड आर्मीमैन हैं और वे शुरू से कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं। उनका बड़ा बेटा इटली में रहता है, छेटा बेटा गांव से कुछ दूर खामानो में रहता है। वे यहां अपनी पत्नी, बहू और पोते के साथ रहते हैं। गुरुमुख सिंह नवंबर में आंदोलन शुरू होने पर ही दिल्ली आ गए थे।

इसी तरह 70 साल के नृपेंद्र सिंह को हिंसा के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। वे पंजाब के संगुरू जिले के खानौरी कलां गांव के रहने वाले हैं। इसी तरह 63 साल के जोगिंदर सिंह को गिरफ्तार किया गया है जो मनसा के बोहा कसबा के रहने वाले हैं। मनसा के एसएसपी सुरिंदर सिंह पाल ने कहा है कि हमें जोंिगंदर सिंह की गिरफ्तारी की सूचना दी गयी है।

दिल्ली क्राइम ब्रांच ने 26 जनवरी को लालकिला हिंसा मामले में 28 साल के आकाश प्रीत को उत्तराखंड के रूद्रपुर से गिरफ्तार किया है। चोट लगने की वजह से उसे सेंट स्टीफंस अस्पताल में भर्ती कराया गया है और पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। रोहतक के एक 18 वर्षीय युवा नवीन को इसी प्रकार नांगलोई हिंसा मामले में गिरफ्तार किया गया है।

उधर, सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष मनजीत सिंह सिरसा ने एक वीडियो संदेश के माध्यम से कहा है कि जो लोग गिरफ्तार किए गए हैं उन्हें मुफ्त कानूनी सहायता उपलब्ध करवायी जाएगी।

Next Story
Share it