राष्ट्रीय

बैरीकेट्स तोड़कर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने पहुंचे किसान, संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर प्रदर्शन

Janjwar Desk
26 Jun 2021 9:57 AM GMT
बैरीकेट्स तोड़कर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने पहुंचे किसान, संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर प्रदर्शन
x
किसान नेता रूलदू सिंह ने कहा कि जब तक सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती, तब तक घर वापसी नहीं करेंगे.....

जनज्वार ब्यूरो/चंडीगढ़। कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों के सात माह पूरे होने पर आज राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। हरियाणा, पंजाब, यूपी, दिल्ली उत्तराखंड में किसान जत्थेबंदियों की ओर से राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा गया। संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर इस विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया गया।

हरियाणा और पंजाब के किसान करीब पौने एक बजे राज्यभवन की ओर रवाना हुए। हरियाणा से आए हुए किसान नाडा साहिब गुरूद्वारा में पहले इकट्ठा हुए। इसके बाद चंडीगढ़ में हरियाणा राजभवन की ओर रवाना हुए।

पंजाब से आए किसान मोहाली के अंब साहिब गुरुद्वारे में एकजुट यहां से पंजाब राजभवन की ओर रवाना हुए। इस दौरान पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए जगह जगह बैरिकेट्स लगाए थे, लेकिन किसान इन्हें तोड़ते हुए चंडीगढ़ की ओर रवाना हो गए।

किसान नेता रूलदू सिंह ने कहा कि जब तक सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती, तब तक घर वापसी नहीं करेंगे।

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में भी पुलिस ने बैरिकेट्स लगा कर प्रदर्शनकारी किसानों को रोकने की कोशिश की। यहां के गांधी पार्क के नजदीक किसानों ने प्रदर्शन किया। किसान यूनियन तोमर के पदाधिकारियों ने नारेबाजी की। किसानों को हाथीबड़कला में बैरिकेडिंग कर फिलहाल रोका गया है।

Next Story

विविध

Share it