राष्ट्रीय

Bharat Bandh : सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान की मौत, पुलिस का दावा हार्ट अटैक से गई जान

Janjwar Desk
27 Sep 2021 1:07 PM GMT
Bharat bandh
x

(भारत बंद के बीच एक और किसान की मौत)

Bharat Bandh : आंदोलन के बीच दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर पर एक किसान की मौत हो गई। मौत के सही कारण का पता पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही चल पाएगा। हालांकि दिल्ली पुलिस ने किसान के मौत की वजह हार्ट अटैक को बताया है

Bharat Bandh दिल्ली। किसानों के भारत बंद (Bharat Bandh) आंदोलन के बीच दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर एक किसान (Farmer) की मौत हो गई। मौत के सही कारण का पता पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट (Postmortem Report) आने के बाद ही चल पाएगा। हालांकि दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने किसान के मौत की वजह हार्ट अटैक (Heart Attack) को बताया है।

केंद्र सरकार (Center) द्वारा लाए तीन कृषि कानूनों के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukta Kisan Morcha) की अगुवाई में देशभर के किसान संगठनों ने आज भारत बंद किया है।

प्रदर्शन कर रहे 40 से ज्यादा किसान संगठनों (Farmers Organisation) ने सोमवार को सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक के लिए यह भारत बंद बुलाया। किसान संगठनों द्वारा सभी सरकारी और निजी दफ्तरों, संस्थानों, दुकानों, उद्योगों और अन्य गैर जरूरी सेवाओं को बंद रखने की अपील की गई। इस दौरान सभी जरूरी सेवाएं जैसे अस्पताल, मेडिकल स्टोर में काम जारी रहा। भारत बंद (Bharat Band) की वजह से कई जगह ट्रैफिक जाम की भी समस्या देखने को मिली।

किसानों ने प्रदर्शन को बताया गैर राजनीतिक

किसानों के भारत बंद पर एक ओर जहां तमाम राजनीतिक पार्टियां (Political Parties) केन्द्र पर निशाना साधने पर लगी है वहीं किसानों ने इसे गैर राजनीतिक आंदोलन बताया। दिल्ली सीमा पर कांग्रेस (Congress) नेता और डीपीसीसी अध्यक्ष अनिल चौधरी गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) पर कृषि कानूनों (Agriculture Laws) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को समर्थन देने पहुंचे थे पर किसानों ने उन्हें वहां से यह कहकर जाने को कह दिया कि ये आंदोलन पूरी तरह से किसानों की लड़ाई है और इसमें वे किसी रातनीतिक पार्टी का समर्थन नहीं चाहते।

सड़कों पर दिखा प्रदर्शन का असर

गुरुग्राम-दिल्ली हाइवे (Gurugram Delhi Highway) पर किसानों द्वारा प्रदर्शन करने के कारण कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया है। दिल्ली से सटे सीमाओं के साथ-साथ हरियाणा, पंजाब में भी भारत बंद (Bharat Bandh) का असर दिखा। हरियाणा में संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukta Kisan Morcha) के भारत बंद के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ रेलवे स्टेशन (Bahadurgarh Railway Station) के ट्रैक पर ही बैठकर विरोध जताने लगे, जिससे रेल सेवा (Rail Service) घंटो बाधित रही।

वहीं कई शहरों में ट्रेनों का परिचालन भी थम गया। दिल्ली से उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाला गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) को भी किसान आंदोलनकारियों ने जाम कर दिया, जिसके वजह से इस रूट पर चलने वाले सभी गाड़ियों को वैकल्पिक मार्गों से निकलना पड़ा।

बता दें कि किसान बीते एक साल से ज्यादा समय से दिल्ली की सीमाओं पर नए कृषि कानूनों (Agriculture Laws) के खिलाफ डटे हुए हैं। सितंबर 2020 में तीन कानून केंद्र की मोदी सरकार (Modi Sarkar) द्वारा पारित किए गए थे। वहीं किसान संगठनों का दावा है कि इतने लंबे समय से चल रहे किसान आंदोलन (Farmers Movement) में अबतक 600 से ज्यादा किसान मारे जा चुके हैं। आज 27 सितंबर को इसी कड़ी में भारत बंद (Bharat Bandh) बुलाया गया था।

Next Story

विविध

Share it