Top
राष्ट्रीय

#FarmersProtest : अंबाला में टोल प्लाजा किसानों ने करवाया फ्री, हरियाणा से किसानों ने किया दिल्ली कूच

Janjwar Desk
12 Dec 2020 3:29 AM GMT
#FarmersProtest : अंबाला में टोल प्लाजा किसानों ने करवाया फ्री, हरियाणा से किसानों ने किया दिल्ली कूच
x

आगरा के एक टोल प्लाजा का दृश्य, जहां ट्रैफिक सामान्य है।

किसान आज से अपने आंदोलन को नया स्वरूप देंगे। वे आज हाइवे जाम करेंगे और टोल प्लाजा को फ्री करेंगे। हालांकि किसानों का रेल रोकने का आज कोई कार्यक्रम नहीं है...

जनज्वार। किसान आंदोलन शनिवार को अपने 17वें दिन में अगले चरण में प्रवेश कर जाएगा। शनिवार को किसान दिल्ली से लगे दो अहम हाइवे दिल्ली-जायपुर हाइवे और दिल्ली-आगरा हाइवे जाम करेंगे। किसान इस दौरान टोल प्लाजा को भी फ्री करेंगे यानी वे बिना शुल्क दिए उससे गुजरेंगे। सरकार से वार्ता विफल होने के बाद पंजाब, हरियाणा व राजस्थान से बड़ी संख्या में किसान दिल्ली कूच कर चुके हैं।


किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के सुखिंदर सिंह सभरा ने कहा कि उनका आंदोलन और मजबूत होगा। शुक्रवार को अमृतसर से किसान ट्रैक्टर से निकले हैं। इसके साथ ही राजस्थान, महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश से किसान ट्रैक्टर से आ रहे हैं। पूरा भारत अब एक साथ है।

पंजाब से करीब 50 हजार किसान अलग-अलग जत्थे में शुक्रवार से ही दिल्ली की ओर कूच कर रहे हैं। वहीं, राजस्थान के 51 किसान संगठन भी दिल्ली कूच करने वाले हैं। इसके लिए वे हरियाणा की सीमा से लगे राजस्थान के अलवल जिले शाहजहांपुर में वे जुटेंगे। सुरक्षा के मद्देनजर यहां बड़ी संख्या में सीआपीएफ व अन्य अर्द्ध सैन्य बल तैनात किए गए हैं। राजस्थान किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट के नेतृत्व में किसान संगठन शाहजहांपुर में जुटेंगे।

उधर, किसान संगठनों ने यह स्पष्ट किया है कि वे रेल नहीं रोकेंगे। गाजीपुर बाॅर्डर पर एक किसान नेता हरिंदर सिंह ने कहा कि टोल प्लाजा फ्री होना चाहिए और यह पूरे देश में होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर पूरे भारत के संगठन एकजुट होकर फैसला लेंगे तभी ट्रेनें रोकी जाएंगी। किसान नेताओं का कहना है कि अब उनका आंदोलन जन आंदोलन बन गया है और इसमें सबकी सहभागिता है।

14 से अडानी-अंबानी व भाजपा का बहिष्कार

किसान संगठनों ने तय किया है कि वे अपने आंदोलन के अगले चरण में 14 दिसंबर से अडानी व अंबानी के सारे उत्पादों का बहिष्कार करेंगे। वे उसका उपयोग नहीं करेंगे और अपने संपर्क में आने वाले हर व्यक्ति से उसके बहिष्कार की अपील करेंगे। रिलायंस के पेट्रोल पंप पर लोग तेल भी नहीं लेंगे। किसानों का रिलायंस का जियो सिम जलाने का कुछ फोटो व वीडियो भी मीडिया में वायरल हो चुका है। किसान नेताओं का कहना है कि वे न तो खुद उसके सिम का इस्तेमाल करेंगे और जिनके पास वह सिम है उसे दूसरे टेलीकाॅम आपरेटर के पास पोर्ट करवाने के लिए कहेंगे। किसान संगठन इनके कृषि क्षेत्र में सक्रिय होने से खुद को होने वाले संभावित नुकसान हो लेकर आशंकित हैं। रिलायंस जहां कृषि उत्पादों के रिटेल चेन पर काम कर रहा है, वहीं अडानी कृषि उपज के लिए बड़े वेयर हाउस के निर्माण पर काम कर रहा है।

किसान संगठनों ने भाजपा के बहिष्कार का भी निर्णय लिया है। इसके तहत उसके पार्टी कार्यालयों पर धरना दिया जाएगा और उसके नेताओं का घेराव किया जाएगा।

किसानों ने टोल प्लाजा करवाया फ्री

किसानों ने टोल प्लाजा को टोल फ्री करवाना शुरू कर दिया है। अंबाला के शंभु बाॅर्डर पर वाहन बिना टोल के गुजर रहे हैं। वाहन बिना शुल्क दिए ही वहां से राज 12 बजे से गुजर रहे हैं। किसानों ने आज शुल्क नहीं देने का निर्णय लिया है। यह उनके आंदोलन का एक हिस्सा है। शंभु टोला प्लाजा के इंचार्ज रवि तिवारी ने कहा है कि यह टोल पिछली रात 12 बजे से टोल फ्री है। उन्होंने कहा कि कुछ किसान यहां आए और अपना विरोध जताया। उन्होंने कहा कि हमें अभी यह आदेश नहीं मिला है कि यह कब तक जारी रहेगा, लेकिन कुछ किसान कह रहे हैं कि यह आज रात 12 बजे तक जारी रहेगा।



उधर, आगरा में टोल प्लाजा पर ट्रैफिक सामान्य है। वाहनों का आवागमन जारी है। आगरा पश्चिम के एएसपी ने एएनआइ से कहा है कि यहां पांच बड़े टोल प्लाजा हैं हमें ऐसी कोई सूचना नहीं कि इनमें से किसी को बंद किया गया है।


Next Story

विविध

Share it