Top
राष्ट्रीय

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में पहली गिरफ्तारी, क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि बेंगलुरु से गिरफ्तार

Janjwar Desk
14 Feb 2021 6:40 AM GMT
ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में पहली गिरफ्तारी, क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि बेंगलुरु से गिरफ्तार
x
दिशा पर आरोप है कि उसने टूलकिट में कुछ चीजें एडिट की और फिर उसमें कुछ चीजें जोड़ी थीं और आगे बढ़ाया था, खबर है कि स्पेशल सेल दिशा को रिमांड पर लेकर आगे की पूछताछ कर सकती है..

जनज्वार। ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पहली गिरफ्तारी की है। स्पेशल सेल द्वारा बेंगलुरु से 21 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को गिरफ्तार किया गया है। स्पेशल सेल के अधिकारियों के मुताबिक दिशा रवि केस की एक कड़ी है। दिल्ली पुलिस गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा, लाल किला मामला के साथ टूलकिट मामले की भी जांच कर रही है।

दिशा पर आरोप है कि इसने टूलकिट में कुछ चीजें एडिट की और फिर उसमें कुछ चीजें जोड़ी थीं और आगे बढ़ाया था। खबर है कि स्पेशल सेल दिशा को रिमांड पर लेकर आगे की पूछताछ कर सकती है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि अभी इस केस में कई और गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

आरोप है कि दिशा रवि ने गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा को लेकर साइबर स्ट्राइक के लिए बनाई गई टूलकिट को एडिट किया था। बताया जाता है कि दिशा रवि फ्राइडे फ़ॉर फ्यूचर कैम्पेन की फॉउंडरों में से एक हैं। बता दें कि बीते 4 फरवरी को दिल्ली पुलिस ने टूलकिट को लेकर केस दर्ज किया था।

पिछले दिनों स्वीडन की पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग ने कृषि कानून के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों का समर्थन किया था। उन्होंने ट्विटर पर एक टूलकिट भी पोस्ट किया था। कहा जाता है कि इसमें भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बदनाम करने के लिए आंदोलन से संबंधित वीडियो, फोटो, ट्विटर हैशटैग, टैगिंग अकाउंट की लिस्ट समेत अन्य साम्रगी मौजूद थी। बाद में इस टूलकिट को डिलीट कर दिया था।

दिल्ली पुलिस के मुताबिक, इस 'टूलकिट' का मकसद भारत सरकार के खिलाफ साजिश रचना है। केस केवल 'टूलकिट' के क्रिएटर्स के खिलाफ दर्ज की गई है। हालांकि पहले खबर आई थी कि टूलकिट मामले में थनबर्ग के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है, पर बाद में दिल्ली पुलिस की ओर से जानकारी दी गई कि अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

इस सम्बंध में आपराधिक साजिश, राजद्रोह और भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दिल्ली पुलिस की साइबर इस मामले की जांच कर रही है।

दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा की जांच के दौरान ग्रेटा थनबर्ग द्वारा 'टूलकिट' को अपलोड करने की बात का खुलासा हुआ था, जिसे बाद में उन्होंने डिलीट कर दिया था।

बता दें कि टूलकिट में ट्विटर के जरिये किसी अभियान को ट्रेंड कराने से संबंधित दिशानिर्देश और सामग्री होती है। इसमें हैशटैग, टैग करने वाले एकाउंट, वीडियो व फोटो और संबंधित विषय से जुड़ी जानकारी होती है। इसमें ट्विटर पर ट्रेंड कराने के लिए जानकारी और सामग्री होती है।

Next Story

विविध

Share it