राष्ट्रीय

Haryana News : किसानों का मंत्री कमलेश ढांडा के निवास पर हल्ला बोल, बैरिकेडिंग तोड़कर पहुंचे किसान

Janjwar Desk
2 Oct 2021 9:07 AM GMT
Haryana News : किसानों का मंत्री कमलेश ढांडा के निवास पर हल्ला बोल, बैरिकेडिंग तोड़कर पहुंचे किसान
x

(मंत्री कमलेश ढांडा के निवास के बाहर गुस्साए किसान)

Haryana News : धान की खरीद की तारीख आगे बढ़ाए जाने से गुस्साए किसान।

Haryana News जनज्वार। हरियाणा के कैथल (Kaithal) में किसानों (Farmers) ने मंत्री कमलेश ढांडा (Kamlesh Dhanda) के निवास पर हल्ला बोला है। सैकड़ों किसान बैरिकेडिंग तोड़कर उनके निवास पर पहुंचे। किसानों का कहना है कि जब तक धान की खरीद शुरू नहीं होगी तब तक धरना जारी रहेगा। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है और मौके पर एसडीएम और डीएसपी भी मौजूद हैं।

वहीं दूसरी ओर किसानों ने अंबाला-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग (Ambala-Delhi National Highway) पर स्थित बुआना अनाज मंडी के मार्किट कमिटी ऑफिस पर ताला जड़ दिया है। धान की खरीद की तारीख आगे बढ़ाए जाने से गुस्साए किसानों ने अनाज मंडी का घेराव किया है।

इस बीच हरियाणा के गृहमंत्री अनिज विज ने ट्वीट कर कहा- किसान आंदोलन दिन प्रतिदिन हिंसक होता जा रहा है। महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के देश में हिंसक आंदोलन की इजाजत नहीं दी जा सकती। किसान नेता अपने आंदोलन को संयम में रखें।

Also Read : इधर बरसात का अंदेशा, दूसरी ओर धान की सरकारी खरीद केंद्र सरकार ने 11 अक्टूबर तक टाल दी

बता दें कि इससे पहले केंद्र सरकार ने 1 अक्टूबर से होने वाली धान की सरकारी खरीद को अचानक से स्थगित कर दिया था। अब धान की खरीद 11 अक्टूबर से होगी। वहीं दूसरी ओर हरियाणा और पंजाब में बीस प्रतिशत से ज्यादा धान की कटाई हो चुकी है। धान मंडियों में पहुंच गई है। लगातार बरसात का अंदेशा हो रहा है, इस वजह से धान उत्पादक किसान भारी परेशानी से दो चार हो रहे हैं।

किसानों का आरोप है कि सरकार किसानों को बर्बाद करने पर तुली हुई है। हरियाणा और पंजाब में 25 सितंबर से आम तौर पर धान की सरकारी खरीद शुरू हो जाती है। इस बार 1 अक्टूबर से खरीद की बात की गई थी। अचानक ही अब 11 अक्टूबर तक सरकारी खरीद स्थगित करने का निर्णय लिया है। सरकार के इस निर्णय के बाद मंडियों में धान लेकर आए किसानों में गहरा रोष है। खरीद शुरू न होने की वजह से मंडियों में जाम की स्थिति बनी हुई है।

हरियाणा और पंजाब (Haryana And Punjab) में मोटी धान की सरकारी खरीद होती है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कुछ दिन पहले ही दावा किया था कि धान की सरकारी खरीद इस बार एक अक्टूबर से शुरू हो जाएगी। इस आश्वासन के बाद किसानों ने धान की कटाई शुरू कर दी। अब अचानक धान खरीद का कार्यक्रम सरकार ने स्थगित कर दिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने धान की खरीद को लेकर आए नये फरमान पर कहा कि सरकार ने धान खरीद में अन्नदाता का बिल्कुल मजाक बनाकर रख दिया है। पहले खुद सरकार ने ही 25 सितंबर से खरीद शुरू करने का ऐलान किया था। उसके बाद 1 अक्टूबर से खरीद की बात कही और अब 11 अक्टूबर तक खरीद को टाल दिया गया है। लाखों क्विंटल धान प्रदेश की मंडियों में अन्नदाता ट्रैक्टर ट्रालियों में भर कर ला चुके है। सरकार बताए कि अब किसान इस फसल का क्या करें और कहां ले जाएँ?

Next Story

विविध

Share it