Top
हरियाणा

#FarmersProtest खट्टर के बयान से भड़के हरियाणा के किसानों ने पूछा हम पाकिस्तान से आए हैं? अमरिंदर भी नाराज

Janjwar Desk
28 Nov 2020 1:34 PM GMT
#FarmersProtest खट्टर के बयान से भड़के हरियाणा के किसानों ने पूछा हम पाकिस्तान से आए हैं? अमरिंदर भी नाराज
x
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस बयान से विवाद उत्पन्न हो गया है कि किसान आंदोलन में हरियाणा के किसान शामिल नहीं हैं। हरियाणा के किसानों ने जहां इसे अपनी पहचान पर सवाल मानते हुए आइडी प्रूफ दिखाया है, वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वे खट्टर से बात भी नहीं करेंगे...

जनज्वार। किसान आंदोलन पर राजनीति तेज है। भारतीय जनता पार्टी शासित हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आरोपों से हरियाणा के किसान व पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह नाराज हो गए हैं। अमरिंदर सिंह ने कहा है अगर मनोहर लाल 10 बार भी फोन करेंगे तो नहीं उठाउंगा। वहीं, हरियाणा के किसानों ने उनके आरोपों को खारिज कर अपना आधार कार्ड दिखाते हुए कहा है कि वे हरियाणा के रहने वाले हैं और इस किसान आंदोलन में शामिल हैं।

दरअसल, मनोहर लाल खट्टर ने आरोप लगाया था कि पंजाब के मुख्यमंत्री अमररिंदर सिंह किसानों को भड़का रहे हैं और इस आंदोलन में पंजाब के ही किसान शामिल हैं। मनोहर लाल ने कहा था कि प्रदर्शनकारी किसान उनके प्रदेश के नहीं हैं और प्रदर्शन के लिए पंजाब जिम्मेवार है।

प्रदर्शन में शामिल हरियाणा के किसानों ने कहा कि बहुत सारे ट्रैक्टर से उनके राज्य के लोग प्रदर्शन में शामिल होने आए हैं। किसानों ने कहा कि मुख्यमंत्री की जुबान है कुछ भी बोल सकते हैं। एक किसान ने खट्टर के आरोपों पर कहा कि हम क्या पाकिस्तान से आए हैं। किसान ने अपना आधार कार्ड दिखाते हुए कहा कि यह हमारा प्रूफ है, खट्टर को बता देना कि हम हरियाणा के बहुत सारे किसान यहां बैठे हैं और प्रूफ चाहिए तो बता देना वो भी देंगे। किसानों ने कहा कि हम किसी पार्टी के नहीं हैं।

हरियाणा के किसानों ने कहा है कि उनके राज्य के बहुत सारे ट्रैक्टर प्रदर्शन में आए हैं। उन्होंने कहा है कि आज अगर इतनी भीड़ है तो कल आने वाली भीड़ से रास्ता जाम हो जाएगा।

प्रदर्शन किसानों का अधिकार, हमने नहीं रोका, आप क्यों रोक रहे : अमरिंदर सिंह

अरमरिंदर सिंह ने कहा है कि अपनी मांगों के लिए प्रदर्शन करना किसानों का लोकतांत्रिक अधिकार है। हम उन्हें नहीं रोक रहे हैं, हरियाणा की सरकार उन्हें क्यों रोक रही है, क्यों उन पर वाटर कैनन व आंसू गैस का प्रयोग कर रही है। अमरिंदर ने हरियाणा के मुख्यमंत्री के बयान को लेकर कहा कि वे इस तरह का व्यवहार पसंद नहीं करते हैं और उनके फोन व पत्र का जवाब नहीं देंगे। उन्होंने खट्टर के बारे में कहा कि वे नहीं जानते हैं कि क्या बोलना चाहिए, इसलिए इस तरह का बयान दे रहे हैं।



अमरिंदर सिंह ने कहा कि जब पंजाब ने किसानों को नहीं रोका, दिल्ली ने अपना रास्ता खोल दिया तो बीच में किसानों को रोकने वाले खट्टर कौन होते हैं। उन्होंने कहा कि जब किसानों की रोटी की बात है तो कोई उन्हें रोकने वाला नहीं है। उन्होेंने कहा कि उन्हें यह बात समझनी होगी। उन्होंने सवाल पूछा कि क्या किसान खालिस्तानी हैं?

Next Story

विविध

Share it