Top
हरियाणा

हरियाणा में 2 लड़कियों के साथ दर्जनभर पुलिसवालों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, महिला आयोग के हस्तक्षेप पर दर्ज हुई FIR

Janjwar Desk
11 Sep 2020 12:21 PM GMT
हरियाणा में 2 लड़कियों के साथ दर्जनभर पुलिसवालों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, महिला आयोग के हस्तक्षेप पर दर्ज हुई FIR
x

सोनीपत में थाने में गैंगरेप की घटना का विरोध करते लोगों का फाइल फोटो। 

पुलिस ने नाबालिग लड़की का भी नाम हत्या की एफआइआर में शामिल कर लिया और उसे थाने ले आयी, जहां दर्जन भर पुलिस वालों ने बलात्कार किया और शरीर को गंभीर नुकसान पहुंचाया...

जनज्वार। हरियाणा के सोनीपत जिले के बरौदा पुलिस थाने में एक नाबालिग लड़की से गैंगरेप की घटना घटी और इस पर लंबे समय तक पर्दा डालने की कोशिश की गई। आखिरकार राज्य महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद इस मामले में सोनीपत महिला थाने में लड़की की मां की शिकायत पर एफआइआर दर्ज की गई।

लड़की की मां ने कई जगह मामले में एफआइआर दर्ज करने के लिए फरियाद की जिसके बाद 30 जुलाई 2020 को एफआइआर दर्ज हुई है, लेकिन इसके डेढ महीने बाद भी अबतक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। इस मामले में लड़की की मां की शिकायत की काॅपी व एफआइआर की काॅपी जनज्वार के पास उपलब्ध है।

जानकारी के अनुसार, बोडाना में दो पुलिस वालों की हत्या हो गई थी जिसके बाद दो लड़कों के साथ दो लड़कियों की गिरफ्तारी की गई थी। यह घटना 30 जून 2020 की है। दोनों लड़कियों अपने ब्वाॅयफ्रेंड के साथ बोडाना में घूम रही थीं, इसी दौरान पुलिस वाले आए और उन्हें साथ घूमने पर टोका और ऐसा करने से मना किया। लड़कों व पुलिस वालों के बीच नोंक-झोंक मारपीट में बदल गई और इसमें दोनों पुलिसवालों की जान चली गई। इस दौरान लड़कियां गाड़ी पर बैठी हुई थीं।

इसके बाद इस मामले में एफआइआर दर्ज की गई और पुलिस ने दोनों लड़कों के साथ दोनों लड़कियों को भी आरोपी बनाते हुए गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर बोडाना थाना ले आयी, जहां उनके साथ गैंगरेप किया गया। लड़कियों के साथ मारपीट भी की गई और उनमें से एक के शरीर के अंदरूनी हिस्सों को नुकसान पहुंचाया गया, जिससे लड़की के शरीर से कई दिनों तक ब्लिडिंग होती रही।




इस मामले को लेकर संघर्ष करने वाले आम आदमी पार्टी की हरियाणा इकाई के प्रवक्ता विमल किशोर ने जनज्वार से कहा कि पुलिस ने दोनों लड़कियों को रिमांड पर लेकर उनके साथ ज्यादती की। उन्होंने कहा कि लड़की ने रेप करने वाले पुलिसवालों के नेम प्लेट के आधार पर उनकी शिकायत की है। हालांकि एफआइआर के बावजूद अब तक कार्रवाई नहीं हुई है।

लड़की का परिवार सोनीपत जिले के गोहाना तहसील के बुटाना गांव की रहने वाली है। लड़की की मां ने कहा है कि जिस वक्त उसका नाम पुलिस ने एफआइआर में शामिल किया गया उस वक्त उसकी उम्र 18 साल से कम थी और जब थाने में गैंगरेप किया गया था उस समय भी उसकी उम्र 18 साल से कम थी। लड़की की मां कविता ने दर्ज करायी गई शिकायत में उसकी जन्मतिथि 23 अगस्त 2002 बतायी है। इस तरह वह लड़की 23 अगस्त 2020 को 18 साल की उम्र पूरा कर बालिग होती है, लेकिन एफआइआर दर्ज करने व बलात्कार करने की घटना क्रमशः जून व जुलाई की है।

लड़की की मां ने अपने शिकायत पत्र में कहा है कि जब वे 18 जुलाई को अपनी बेटी से मिलने जेल गईं तो पता चला कि उनकी बेटी की तबीयत ज्यादा खराब है। पीड़िता ने बताया कि उसके व उसकी साथी लड़की के साथ थाने में 10 से 12 पुलिस वालों ने गैंगरेप किया। इस मामले में शिकायत पत्र में तीन पुलिस कर्मियों का प्रत्यक्ष रूप से नाम शामिल है। ये नाम हैं: संजय, राधे और संदीप।

इस मामले को लेकर सोनीपत में स्थानीय स्तर पर आंदोलन भी चला। धरना प्रदर्शन आदि भी हुए। हालांकि अब प्राथमिकी दर्ज कर ली गई लेकिन कार्रवाई व दोषियों की गिरफ्तारी का इंतजार है।

Next Story

विविध

Share it