राष्ट्रीय

क्रिसमस पर हिंदुत्ववादियों ने मचाया बवाल, हरियाणा में तोड़ी जीसस की मूर्ति तो असम में बजरंग दल ने क्रिसमस सेलिब्रेशन में डाला भंग

Janjwar Desk
26 Dec 2021 5:24 PM GMT
क्रिसमस पर हिंदुत्ववादियों ने मचाया बवाल, हरियाणा में तोड़ी जीसस की मूर्ति तो असम में बजरंग दल ने क्रिसमस सेलिब्रेशन में डाला भंग
x

हरियाणा में हिंदुत्ववादियों ने तोड़ी जीसस की मूर्ति 

हरियाणा के अंबाला में रविवार 26 दिसंबर को दोपहर के समय एक चर्च में ईसा मसीह की मूर्ति को तोड़ दिया गया। असम के सिलचर में बजरंग दल के कुछ लोगों ने चर्च में घुस कर क्रिसमस के आयोजन में भंग दाल दिया...

Haryana News : हरियाणा के अंबाला में रविवार 26 दिसंबर को दोपहर के समय एक चर्च में ईसा मसीह की मूर्ति को तोड़ दिया गया। बता दें कि पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है लेकिन अभी तक ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने वालों की पहचान नहीं हो सकी है। वहीं एक अन्य घटना असम की है। असम के सिलचर में 25 दिसंबर को बजरंग दल के कुछ लोगों ने चर्च में घुस कर क्रिसमस के आयोजन में भंग दाल दिया।

अंबाला में ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त

मीडिया में छपी खबर के अनुसार हरियाणा के अंबाला में ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने के मामले पर सदर पुलिस स्टेशन के एसएचओ नरेश ने बताया है कि 'दोपहर करीब 12:30 बजे दो लोग चारदीवारी से छलांग लगाकर आए और ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दिया। उनकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई है, इसकी जांच के लिए पुलिस टीमों को लगाया गया है। इस मामले में शिकायत दर्ज की जा रही है और उसके अनुसार पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।'

बजरंग दल ने काटा बवाल

असम के सिलचर में स्थानीय लोग एक चर्च में इकट्ठा होकर धूमधाम से क्रिसमस का त्योहार मना रहे थे कि तभी वहां कुछ लोग जबरदस्ती घुस आए और खुद को बजरंग दल का कार्यकर्ता बताने लगे। उन लोगों ने क्रिसमस मना रहे हिंदुओं से इस आयोजन में शामिल न होने को कहा था। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार जबरन घुस आए उन लोगों का कहना था कि उन्हें ईसाइयों के क्रिसमस मनाने से कोई दिक्कत नहीं है लेकिन वे हिंदुओं को ईसाइयों के इस त्योहार को नहीं मनाने देंगे क्योंकि 25 दिसंबर के दिन ही 'तुलसी दिवस' भी है।

घटना का वीडियो वायरल

असम की इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में उन लोगों में से एक का कहना है कि 'हम क्रिसमस समारोह में भाग लेने वाले हिंदू लड़के और लड़कियों के खिलाफ हैं। आज हिंदुओं का तुलसी दिवस था, लेकिन किसी ने नहीं मनाया। इससे हमारी भावनाएं आहत होती हैं। हर कोई 'मेरी क्रिसमस' कह रहा है। हमारा धर्म कैसे बचेगा।'

मामले में नहीं हुई कोई शिकायत दर्ज

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस घटना को लेकर स्थानीय पुलिस ने बताया है कि इस मामले में उन्हें अभी तक ना ही कोई शिकायत मिली है और ना की कोई मामला दर्ज किया गया है। पुलिस का कहना है कि ये एक छोटी सी झड़प है, इसलिए उन्होंने स्वत: संज्ञान लेकर कोई मामला दर्ज नहीं किया है।

Next Story

विविध