राष्ट्रीय

Shamshabad Mosque Row : असदुद्दीन ओवैसी के इलाके में मस्जिद पर KCR ने चलवा दिया बुलडोजर, मचा हंगामा, धारा 144 लागू

Janjwar Desk
5 Aug 2022 9:39 AM GMT
Shamshabad Mosque Row : असदुद्दीन ओवैसी के इलाके में मस्जिद पर KCR ने चलवा दिया बुलडोजर, मचा हंगामा, धारा 144 लागू
x

Shamshabad Mosque Row : असदुद्दीन ओवैसी के इलाके में मस्जिद पर KCR ने चलवा दिया बुलडोजर, मचा हंगामा, धारा 144 लागू

Shamshabad Mosque Row : एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ( AIMIM Chief Asaduddin Owaisi ) का अभी कोई बयान नहीं आया है लेकिन अगामी दिनों में एआईएमआईएम और टीआरएस के बीच सियासी तकरार देखने को मिल सकता है।

Shamshabad Mosque Row : तेलंगाना की राजधानी के हैदराबाद ( Hyderabad ) से सटे शमशाबाद ( shamshabad ) में दो दिन पहले मस्जिद को बुलडोजर से ध्वस्त ( Shamshabad mosque bulldozed ) करने को लेकर बवाल मचा है। नाराज लोग सड़कों पर उतर आये हैं। तनाव को देखते हुए शमशाबाद में धारा 144 लागू कर दिया गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि सीएम केसीआर ( CM K Chandrashekhar Rao ) की इजाजत के बगैर मस्जिद को तोड़ना असंभव था। लोगों का आरोप है कि केसीआर ने मस्जिद को ढहाने का काम हिंदू वोट ( Hindu Vote ) पाने के मकसद से कराया है।

ओवैसी ने साधी चुप्पी

इस मसले पर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ( AIMIM Chief Asaduddin Owaisi ) का अभी कोई बयान नहीं आया है। माना जा रहा है कि इस घटना के बाद एआईएमआईएम ( AIMIM ) और टीआरएस ( TRS ) के बीच सियासी खटास देखने को मिल सकता है। शमशाबाद मस्जिद-ए-ख्वाजा महमूद को गिराए जाने को लेकर मुस्लिम समुदाय का आरोप है कि यह सोची समझी कार्रवाई है। सीएम के चंद्रशेखर राव की इजाजत के बिना यह संभव नहीं था।

हिंदू वोट पाने को केसीआर ने उठाया ये कदम

दूसरी तरफ इस मस्जिद पर बुलडोजर चलने को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ( AIMIM Chief Asaduddin Owaisi ) की पार्टी ने आरोप लगाया है कि केसीआर ने हिंदू वोट की लालच में ऐसा कदम उठाया है। एआईएमआईएम विधायक कौसर और पार्टी समर्थकों ने 3 अगस्त को मस्जिद की जगह पर नमाज पढ़ी और प्रदर्शन किया। बवाल बढ़ता देख पुलिस ने एहतियातन इलाके में धारा 144 लगा दी और उन्हें हिरासत में ले लिया।

शमशाबाद में 95% आबादी मुस्लिम

बता दें कि शमशाबाद में गिराई गई मस्जिद तीन साल पहले बननी शुरू हुई थी। यहां दो साल से नमाज पढ़ी जा रही थी। बता दें कि इस इलाके में 2016 में नगर निगम ने ग्रीन एवेन्यू कॉलोनी को डेवलप करने का काम शुरू किया था। इस कॉलोनी में 95 फीसदी मुस्लिम और 5 फीसदी हिंदुओं ने जगह ली थी। बाद में इस जगह पर मस्जिद का निर्माण होने लगा और नमाज पढ़ी जाने लगी। विशाल सिंह नाम के एक शख्स ने नगर निगम में शिकायत की कि मस्जिद गैर कानूनी है। मामला अदालत में पहुंचा तो नगर निगम ने जांच के बाद मंगलवार की रात तीन बजे भारी फोर्स की मौजूदगी में बुलडोजर से मस्जिद को ढहा दिया।

KCR के हैदराबाद में योगी का बुलडोजर राज

नगर निगम की इस कार्रवाई के विरोध में हैदराबाद में हजारों लोगों ने सड़कों पर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं मस्जिद बचाओ तहरीक के अध्यक्ष अमजदुल्लाह खान ने आरोप लगाया कि यह सब सोची समझी साजिश के तहत हुआ है। खान का कहना है कि सीएम केसीआर की मंजूरी के बिना इतनी बड़ी कार्रवाई नहीं हो सकती। एक तरफ केसीआर कहते हैं कि हम भाजपा के खिलाफ हैं मुस्लिमों के दोस्त हैं। दूसरी तरफ सत्ता में आने के बाद केसीआर शासन में 9 मस्जिदों को तोड़ा गया है। खान का आरोप है कि सीएम के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व वाली तेलंगाना सरकार योगी आदित्यनाथ के बुलडोजर राज की तरह काम कर रही है।

Next Story

विविध