राष्ट्रीय

यूपी 2022 चुनाव में योगी की छवि चमकाने के लिए अंबानी के चैनल को सबसे ज्यादा विज्ञापन, लोग बोले झूठ की कीमत 160 करोड़

Janjwar Desk
23 July 2021 11:24 PM GMT
यूपी 2022 चुनाव में योगी की छवि चमकाने के लिए अंबानी के चैनल को सबसे ज्यादा विज्ञापन, लोग बोले झूठ की कीमत 160 करोड़
x

RTI से मिली यह लिस्ट न्यूज चैनलों की है अखबार अभी कृपा पाने की पंक्ति में हैं. 

RTI के जरिए सामने आई लिस्ट के मुताबिक यूपी-2022 चुनाव में योगी की छवि प्रभू श्रीराम सरीखी दिखाने के लिए तमाम न्यूज चैनलों को मुँहमांगी रकम देकर काम पर लगा दिया गया है। इस मामले में अम्बानी के चैनल न्यूज-18 ने सबसे कर्रा दांव मारा है...

जनज्वार, लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए जहां तमाम दल सड़कें नापेंगे, वहीं सत्ताधारी दल एक जगह बैठकर बिसात चलने की फिराक में है। और इसके लिए पूरी तैयारी भी शुरू कर दी गई है। इसी तैयारी के मद्देनजर एक लिस्ट भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

दरअसल प्रदेश की योगी सरकार की गोदी में बैठे भोंपुओं की एक लिस्ट एक आरटीआई के माध्यम से सामने आई है। जिसमें यूपी-2022 चुनाव में योगी की छवि प्रभू श्रीराम सरीखी दिखाने के लिए तमाम न्यूज चैनलों को मुँहमांगी रकम देकर काम पर लगा दिया गया है। इस मामले में अम्बानी के चैनल न्यूज-18 ने सबसे कर्रा दांव मारा है।

विज्ञापनों लिस्ट जो एक RTI के जवाब में दी गई है

गौरतलब है कि लीक हुई लिस्ट अभी न्यूज चैनलों की है जिसमें अंग्रेजी WION को 120.70 लाख, रिपब्लिक टीवी को 95.62 लाख, न्यूज X को 85.02 लाख, टाइम्स नॉउ को 82.64 लाख, सीएनएन न्यूज 18 को 54.87 लाख, इंडिया टुडे को 49.66 लाख, मिरर नॉऊ को 49.39 लाख, इंडिया अहेड को 18.62 लाख व इटी नॉऊ को 15.53 लाख रूपये की धनराशि आवंटित की गई है।

इसी तरह हिंदी पट्टी के न्यूज चैनलों को जनता के बीच सरकार की छवि बनाने के लिए नेटवर्क 18 को 28.82 करोड़, जी मीडिया को 23.48 करोड़, एबीपी न्यूज को 18.19 करोड़, इंडिया टुडे के आज तक को 10.64 करोड़, रिपब्लिक हिंदी को 9.01 करोड़, इंडिया न्यूज को 7.24 करोड़ सहित टाइम्स ग्रुप को 5.97 करोड़ रूपये शामिल हैं। पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह लिखते हैं, सरकार के छवि मैनेजरों के इस खेल में 2 रू. वाली मजदूरी भी शामिल है क्या?

खोजी पत्रकार दीपक शर्मा लिखते हैं 'जनता के पैसे से जनता को झूठ दिखाने की सालाना कीमत। 160 करोड़ रूपये यूपी सरकार से सबसे ज्यादा माल कमाया अम्बानी के चैनल Network 18 ने, और जिस चैनल भारत समाचार ने जनता को सच दिखाया वहां इंकम टैक्स के छापे, दफ्तर पर पुलिस। यही है इनका रामराज्य।'

इंडिया टुडे समूह में पत्रकार रहे आलोक पाठक ने लिस्ट शेयर करते हुए लिखा है कि 'वित्त वर्ष 2020-2021 में योगी सरकार ने अंबानी के मीडिया समूह नेटवर्क 18 को 28 करोड़, जी नेटवर्क को 23 करोड़, एबीपी को 18 करोड़, आज तक को 10 करोड़ देके योगी जी का भोंपू बनाया, ये जानकारी उमाशंकर दुबे पत्रकार की आरटीआई से सामने आई।

दरअसल पत्रकार उमाशंकर ने एक आरटीआई इसका जवाब मांगा था। उमाशंकर लिखते हैं 'यूपी सरकार ने जनहित में टीवी चैनलों को वर्ष 2020-2021 में रुपया 2,30,19,10,033 का विज्ञापन दिया गया। हलाकि अभी अखबारों के विज्ञापन की सूचना का जबाब आना बाकी है। बहुत बहुत आभार सूचना विभाग, महत्वपूर्ण जानकारी से मुझे अवगत कराने के लिए।'

Next Story

विविध

Share it