राष्ट्रीय

India China Border : भारत का चीन को टका सा जवाब, हॉट स्प्रिंग्स एरिया में पीछे हटने से किया इनकार

Janjwar Desk
10 April 2022 6:22 AM GMT
India China Border : भारत का चीन को टका सा जवाब, हॉट स्प्रिंग्स एरिया में पीछे हटने से किया इनकार
x
India China Border : चीन विदेश मंत्री वाग यी ने मार्च में नई दिल्ली दौरे के दौरान भारत को पूर्वी लद्दाख के हॉट स्प्रिंग्स स्थित पेट्रोलिंग प्वाइंट 15 से सेना को पीछे हटने का प्रस्ताव दिया था।

India China Border : भारत और चीन के बीच सीमा विवाद ( India China Border Dispute ) को लेकर जारी गतिरोध कम लोने की संभावना कम है। फिलहाल, भारत ( India ) ने पिछले महीने चीन ( China ) के विदेश मंत्री वांग यी की नई दिल्ली दौरे के दौरान दिए गए प्रस्ताव को स्वीाकर करने से साफ शब्दों में इनकार कर दिया है। चीन ने भारत को पूर्वी लद्दाख ( East Ladakh ) के हॉट स्प्रिंग्स ( Hot Springs ) स्थित पेट्रोलिंग प्वाइंट 15 ( PP-15 ) से सेना को पीछे हटने का प्रस्ताव दिया था।

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में करीब दो साल से तनाव की स्थिति बनी हुई है। तनाव दूर करने के लिए दोनों देशों के बीच कमांडर स्तर की बातचीत के 15 दौर हो चुके हैं लेकिन अब तक समाधान नहीं मिल पाया है। द इंडियन एक्सप्रेस ने इस खबर को प्रमुखता से दिया है।

ये है ड्रैगन का प्रस्ताव

अंग्रेजी अखबार ने सरकारी सूत्रों के हवाले प्रकाशित खबर में लिखा है कि चीन ने ये प्रस्ताव दिया था कि पेट्रोलिंग प्वाइंट 15 पर भारत की सेना पीपी 16 और पीपी 17 के बीच करम सिंह पोस्ट तक पीछे हट जाए। पीपी 15 पर भारतीय और चीन की सेना आमने-सामने बनी हुई है। भारतीय दावे के मुताबिक़ चीन ने कहा था कि ऐसा करने पर वह अपने सैनिकों को वास्तविक नियंत्रण रेखा ( LAC ) से पीछे ले जाएगा।

ताजा अपडेट के मुताबिक भारत ( India ) के लिए ये स्वीकार्य नहीं है। ऐसा इसलिए कि वास्तविक नियंत्रण रेखा ( LAC ) को लेकर भारत की समझ और चीन की समझ पीपी15 पर एक-दूसरे से अलग है। यदि भारत ये प्रस्ताव स्वीकार करता तो इसका मतलब होगा कि चीनी सेना बहुत कम पीछे जाएगी और भारतीय सेना को कई किलोमीटर पीछे हटना पड़ेगा।

चीन अपनी चालबाजी से बाज आने को तैयार नहीं

भारतीय पक्ष का कहना है कि पीपी 15 से पीछे हट जाएंगे लेकिन वो हमसे पीपी 16 भी छोड़ने के लिए बोल रहे हैं जिस पर चीन ने पहले कभी दावा नहीं किया। ये कुछ ऐसा है कि मैं एक किलोमीटर पीछे हटूंगा और तुम 5 से 10 किलोमीटर पीछे हट जाओ। फिर पीपी 15 का जिक पहली बार बातचीत में आया है। इससे पहले कभी पीपी 15 का जिक्र नहीं आया था।

India China Border : बता दें कि पिछले दो साल से भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख से लगते क्षेत्र में तनाव जारी हैं। तनाव को दूर करने के लिए 15 दौर की बातचीत हो चुकी है। कुछ बिंदुओं पर सहमति बनी है, लेकिन हॉट स्प्रिंग्स और डेपसांग इलाके में गतिरोध जारी है। इस क्षेत्र में चीन भारत को एलएपी से पीछे जाने को कह रहा है, जिसे खारिज कर दिया गया है।

Next Story

विविध