Top
राष्ट्रीय

बिलासपुर में 16 घंटे डैम के तेज बहाव में फंसा रहा युवक, एयरफोर्स ने किया रेस्क्यू

Janjwar Desk
17 Aug 2020 5:16 AM GMT
बिलासपुर में 16 घंटे डैम के तेज बहाव में फंसा रहा युवक, एयरफोर्स ने किया रेस्क्यू
x
लोकल पुलिस, एसडीआरएफ ने युवक को रेस्क्यू करने का काफी प्रयास किया लेकिन उसमें उन्हें सफलता नहीं मिली। इसके बाद बुधवार की सुबह इंडियन एयरफोर्स से संपर्क किया गया...

जनज्वार। छत्तीसगढ के बिलासपुर में एक युवक को इंडियन एयरफोर्स के प्रयास से नई जिंदगी मिली। युवक खूंटाघाट स्थित एक डैम के तेज बहाव में 16 घंटे फंसा रहा और उसके बाद बिलासपुर पुलिस द्वारा मदद मांगने पर एयरफोर्स ने उसका सुरक्षित रेस्क्यू कर लिया। 34 वर्षीय युवक का नाम जीतेंद्र कश्यप है।

युवक को सोमवार की सुबह सात बजे एयरफोर्स के हेलीकाॅप्टर से रेस्क्यू किया गया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। डैम के तेज बहाव में युवक के फंस जाने के बाद स्थानीय रतनपुर पुलिस ने उसे वहां से निकालने का प्रयास किया लेकिन वह इसमें विफल रही। इसके बाद पुलिस ने इस मामले में इंडियन एयरफोर्स से मदद मांगी जिसके बाद एयरफोर्स ने रेस्क्यू आपरेशन चला कर युवक को सुरक्षित निकाल लिया।

वह युवक 16 घंटे तक एक पत्थर पर पेड़ के सहारे पानी की तेज धार के बीच रहा। पानी का बहाव इतना तेज था कि वह बहुत आसानी से उसे बहा कर ले जाता। लेकिन, युवक ने भी इस संकट में धैर्य बनाए रखा। 16 घंटे में कई बार उस लड़के के सामने मौत जैसे हालात बने, लेकिन उसने अपना धैर्य बनाए रखा।

बिलासपुर रेंज के डीआइजी ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है कि अदभुत बचाव हुआ है। इंडियन एयरफोर्स के एमआइ17 से आज सुबह युवक को सुरक्षित एयरलिफ्ट किया गया। उन्होंने यह भी लिखा कि युवक एक पेड़ के सहारे तेज धार में रहा। उन्होंने इस कामयाबी के लिए भारतीय वायुसेना को धन्यवाद दिया।

एयफोर्स के रेस्क्यू आपरेशन को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग मौके पर जुट गए थे, जब युवक सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया तो सभी ने राहत की सांस ली। जब उस युवक को एयरलिफ्ट कर लिया गया तो सभी खुशी से चिल्ला उठे।

युवक रविवार को डैम में कूद था जिसके बाद वहां से निकल नहीं पा रहा था। दरअसल, जब वह नहाने के लिए कूदा उसी वक्त जानकारी के अभाव में दूसरी ओर से डैम का फाटक खोल दिया गया, जिससे पानी का तेज बहाव शुरू हो गया। इसके बाद उसे निकालने का बिलासपुर पुलिस, प्रशासन, एसटीआरएफ, एनटीपीसी व स्थानीय लोगों ने काफी प्रयास किया लेकिन कामयाबी नहीं मिली। फिर इसके लिए एयरफोर्स से संपर्क किया गया।

Next Story

विविध

Share it