राष्ट्रीय

Tweet देखिए Tweet की धार देखिए फिर बताइये क्या इस एंकर को अब BJP का प्रवक्ता घोषित नहीं कर देना चाहिए!

Janjwar Desk
3 Dec 2021 3:23 AM GMT
tv news
x

(एंकर सुशांत सिन्हा ने तो चापलूसी की हद ही लांघ दी)

राहुल त्यागी नाम के यूजर ने झांसी में हुई अखिलेश यादव की रैली का वीडियो शेयर कर लिखा है कि, 'अगर चाटुकारिता से फुरसत मिले तो अपना माइक लेकर यहाँ झांसी भी पहुँच जाता भाई क्या ये रेला नही लग रहा...

TV MEDIA : तीन कृषि कानूनों की वापसी के बाद टीवी न्यूज के इस एंकर की बुद्धि फ्लॉप हो गई सी लग रही। याद है आपको जब पीएम मोदी ने तीन कृषि बिलों को वापस लेने की महज घोषणा भर की थी तब यह एंकर उपर से न सही लेकिन अंदर से फूट-फूटकर रो रहा था। इसके ट्वीट पर ट्वीटर को भी इसपर तरस आ रहा होगा। तभी सीईओ बदल दिया गया होगा।

एंकर का नाम सुशांत सिन्हा है और चैनल है टाइम्स नाऊ नवभारत। कल की 2 दिसंबर एंकर द्वारा किया गया ट्वीट देखिए, 'सहारनपुर में हूं। यहां @myogiadityanath और @AmitShah जी की रैली नहीं रैला लग रहा है। पूरा मेला लगा हुआ हो मानों। ग़ज़ब भीड़ है। भयंकर योगी-योगी हो रखा है। और मुस्लिम भी खुलकर योगी को वोट देने की बात कह रहे हैं। पूरी ग्राउंड रिपोर्ट शाम 7 बजे TimesNow NavBharat पर।'

एंकर के ट्वीट पर अनब्रेकेबल नाम के यूजर ने लिखा है, 'चुसांत, 1 देशी का पौआ खाने का पैकेट आने जाने के लिए ट्रांसपोर्ट 251/- का लिफाफा उपरोक्त 4 चीजों का इंतजाम कर लो और पूरे भारत में कहीं भी चुनावी रैली में भीड़ इकट्ठी कर लो। बंगाल चुनावों में मोई जी की रैलियों में बहुत भीड़ आती थी, भूल गया?'

सुशांत सिन्हा के ट्वीट पर राहुल त्यागी नाम के यूजर ने झांसी में हुई अखिलेश यादव की रैली का वीडियो शेयर कर लिखा है कि, 'अगर चाटुकारिता से फुरसत मिले तो अपना माइक लेकर यहाँ झांसी भी पहुँच जाता भाई क्या ये रेला नही लग रहा।'

सुशांत को और भी खतरनाक जवाब मिले हैं, जिन्हें यहां लिखा नहीं जा सकता। मतलब इतनी भक्ति। आपको इससे पहले क्या याद है किसी ट्वी पत्रकार ने किसी पार्टी की हार-जीत और रैली के लिए इस तरह की बात भी लिखी हो। बिल्कुल चरणों में लोट लगाई हो। जैसे यह एंकर लगा रहा है। यही सही मायनो में टीवी मीडिया का गिरा हुआ काल है। टोटली पतन के मुहाने पर खड़ा है देश का टीवी मीडिया।

Next Story

विविध