राष्ट्रीय

Jaya Bachchan : राज्यसभा में जया बच्चन का फूटा गुस्सा, BJP को दिया श्राप, कहा इनके बुरे दिन शुरू होने वाले हैं

Janjwar Desk
20 Dec 2021 3:29 PM GMT
UP Election 2022 : BJP पर बरसीं जया बच्चन, कहा किसी दिन लाल टोपी ही उन्हें कोर्ट में घसीटेगी
x

BJP पर बरसीं जया बच्चन

Jaya Bachchan : राज्यसभा में आज जया बच्चन (Jaya Bachchan) भाजपा सांसदों पर जमकर भड़कीं है। जया बच्‍चन ने कहा कि मैं आपको श्राप देती हूं कि आप लोगों के जल्‍द बुरे दिन आएंगे।

Jaya Bachchan : राज्यसभा में आज जया बच्चन (Jaya Bachchan) भाजपा सांसदों पर जमकर भड़कीं है। राजयसभा में अपनी बात रखते समय वो इतने गुस्से में थीं कि हांफने लगीं और उनकी सांस तेजी से चल रही थी। बता दें कि चर्चा में भाग लेने के लिए पीठासीन अध्यक्ष भुवनेश्वर कलिता ने जब जया बच्चन का नाम पुकारा। उनकी किसी बात पर सत्ताधारी दल के कुछ सदस्यों ने आपत्ति जताई। इसे लेकर जया बच्चन और विपक्षी सदस्यों के बीच नोकाझोंक भी हुई।

जया बच्चन का फूटा गुस्सा

वहीं जया बच्चन ने आरोप लगाया कि उनके खिलाफ किसी सदस्य ने आपत्तिजनक टिप्पणी की है। इस वजह से हंगामा और तेज हो गया। जिसके बाद कालिता ने सदन की कार्यवाही पांच बजे तक के लिए स्थगित कर दी। बता दें कि जया बच्चन ने कहा कि '12 सदस्‍यों को निलंबित कर रहा है। आप इसका बचाव कैसे कर सकते हैं। इस पर राज्‍य सभा के सभापति ने कहा कि आप नारकोटिक्‍स बिल पर बात करिए।'

आपके बुरे दिन आएंगे

राजयसभा में सभापति की बात पर जया बच्‍चन भड़क गईं और कहा कि 'आप हमारा गला घोंट दीजिए, घोंट दीजिए गला, उनको ही चलाने दीजिए। जया बच्‍चन ने कहा कि आप क्‍यों बोल रहे हैं। मेरा नंबर है बात करने का। हमें न्‍याय चाहिए। मुझ पर भी निजी हमला किया गया। मैं आपको श्राप देती हूं कि आप लोगों के जल्‍द बुरे दिन आएंगे।' बता दें कि इससे पहले दो बार सदन की कार्यवाही हंगामे की पवजह से स्थगित हुई। विपक्षी सदस्यों के निलंबन सहित कुछ अन्य मुद्दों पर हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद दूसरी बार महज पांच मिनट के भीतर ही तीन बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई थी।

राजयसभा की कार्यवाही

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार पहली बार के स्थगन के बाद जैसे ही दोपहर दो बजे कार्यवाही आरंभ हुई, विधि व कानून राज्यमंत्री एस पी सिंह बघेल ने मध्यकता विधेयक, 2021 सदन में पेश किया। विधेयक पेश करने के बाद बघेल ने इस विधेयक को स्थायी समिति को भेजने की सिफारिश की। इसके तत्काल बाद उपसभापति हरिवंश ने कोविड-19 के नए स्वरूप ओमीक्रोन से पैदा हुई स्थिति पर अल्प चर्चा को आगे बढ़ाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के जफर इस्लाम का नाम पुकारा था।

राजयसभा में हंगामा

भाजपा के जफर इस्लाम ने अपनी बात रखनी शुरू ही की थी। जिसके बाद कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस सहित कुछ अन्य विपक्षी सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया। जिसके बाद कुछ विपक्षी सदस्य आसन के निकट आकर नारेबाजी करने लगे। बता दें कि कुछ सदस्य केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा के इस्तीफे की भी मांग करते सुने गए। उपसभापति हरिवंश ने हंगामा कर रहे सदस्यों से अपने स्थानों पर लौटने और कार्यवाही सुचारू रूप से चलने देने की अपील की।

Next Story

विविध