झारखंड

दुमका गैंगरेप : महिला आयोग ने लिया स्वतः संज्ञान, बिहार की डिप्टी सीएम बोलीं - यह हेमंत सरकार की विफलता

Janjwar Desk
10 Dec 2020 6:50 AM GMT
दुमका गैंगरेप : महिला आयोग ने लिया स्वतः संज्ञान, बिहार की डिप्टी सीएम बोलीं - यह हेमंत सरकार की विफलता
x

Bihar Deputy CM Renu Devi.

दुमका गैंगरेप केस पर एक ओर जहां राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वतः संज्ञान लिया है, वहीं एनडीए व महागठबंधन की राजनीति गरमा गई है। भाजपा की वरिष्ठ नेता व बिहार की डिप्टी सीएम रेणु देवी ने इस मामले को हेमंत सोरेन सरकार की विफलता करार दिया है...

जनज्वार। झारखंड के दुमका में आठ दिसंबर की रात एक 35 वर्षीया महिला के साथ 17 युवकों द्वारा गैंगरेप किए जाने के मामले पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वतः संज्ञान लिया है। वहीं, इस मुद्दे पर एनडीए व यूपीए के बीच की राजनीति भी गरम हो गई है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने झारखंड के डीजीपी को पत्र लिखा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के गाइड लाइन के अनुरूप दो महीने के अंदर मामले की जांच पूरा कराने को कहा है। इसके साथ ही महिला आयोग ने इस संबंध में झारखंड पुलिस ने विस्तृत रिपोर्ट तलब की है।

वहीं, बिहार की उप मुख्यमंत्री व भाजपा नेता रेणु देवी ने दुमका गैंगरेप को झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार की विफलता बताया है। उन्होंने कहा है कि अपराधियों को इस मामले में सजा मिलनी चाहिए और पीड़िता को न्याय दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा है कि इस मामले में कानून का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए।

मालूम हो कि दुमका के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के अंतर्गत आठ दिसंबर की रात एक महिला के साथ उस समय गैंगरेप की घटना घटी थी जब वह अपने पति के साथ बाजार से लौट रही थी। आरोपियों ने उसके पति को बंधक बना लिया और उसके उसके साथ गैंगरेप किया। इस मामले में एक आरोपी को महिला पहचानती है, जिसने पहले भी उससेे छेड़खानी की थी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं, मामले में शामिल 16 अन्य आरोपियों को महिला नहीं पहचानती है और उनकी तलाश की जा रही है। इस मामले में ग्रामीणों से भी पूछताछ की जा रही है। महिला की मेडिकल जांच करायी गई है।

Next Story

विविध

Share it