Top
झारखंड

बेटी को JEE परीक्षा दिलाने के लिए किसान पिता ने चलाई 300 किमी मोटरसाइकिल

Janjwar Desk
1 Sep 2020 2:56 PM GMT
बेटी को JEE परीक्षा दिलाने के लिए किसान पिता ने चलाई 300 किमी मोटरसाइकिल
x

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोविड-19 के चलते, बिहार और झारखंड के बीच कोई बस सेवा नहीं चल रही है। बेटी परीक्षा दे पाये इसे देखते हुए धनंजय कुमार ने सोमवार 31 अगस्त की तड़के नालंदा जिले से अपनी यात्रा कर दी शुरू...

रांची। एक किसान ने अपनी बेटी को JEE की परीक्षा दिलवाने के लिए नालंदा से रांची तक 300 किलोमीटर का सफर मोटरसाइकिल से तय किया। बिहार के नालंदा जिले में रहने वाले धनंजय कुमार ने 12 घंटे में 300 किलोमीटर की यात्रा की और यह सुनिश्चित किया कि वह झारखंड के रांची तुपुडाना में अपनी बेटी को मंगलवार 1 सितंबर को जेईई परीक्षा दिलवाने समय पर पहुंच सके।

कोविड-19 के चलते, बिहार और झारखंड के बीच कोई बस सेवा नहीं चल रही है। इसे देखते हुए धनंजय कुमार ने सोमवार 31 अगस्त तड़के नालंदा जिले से अपनी यात्रा शुरू की थी।

वह आठ घंटे में बोकारो पहुंच गए और फिर वहां से 135 किलोमीटर की यात्रा कर सोमवार दोपहर रांची पहुंच गए।

धनंजय ने पत्रकारों से कहा, "मैंने पाया कि नालंदा से रांची की लंबी दूरी तय करने के लिए मोटरसाईकिल ही केवल विकल्प है। कोरोनावायरस की वजह से बसें नहीं चल रही हैं।"

उन्होंने कहा, "बोकारो से रांची जाने के दौरान, मुझे नींद आने लगी थी। मैं बीच में ही रुक गया और कुछ देर नींद ली, फिर अपनी बेटी के साथ यात्रा पूरी की।"

झारखंड के 10 केंद्रों में करीब 22,843 छात्र परीक्षा में शामिल हो रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it