झारखंड

IAS Pooja Singhal case में इंटरनेशनल लिंक का खुलासा, ED को जांच में मिले कई और अहम सुराग

Janjwar Desk
19 May 2022 3:13 AM GMT
IAS Pooja Singhal case में इंटरनेशनल लिंक का खुलासा, ED को जांच में मिले कई और अहम सुराग
x

IAS Pooja Singhal case में इंटरनेशनल लिंक का खुलासा, ED को जांच में मिले कई और अहम सुराग

IAS Pooja Singhal case : ईडी को इस बात की जानकारी दुमका और पाकुड़ के डीएमओ से पूछताछ में मिली है।

IAS Pooja Singhal case : भ्रष्टाचार के मामले में झारखंड की निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल ( IAS Pooja Singhal ) को लेकर प्रवर्तन निदेशालय ( ED ) ने बड़ा खुलासा किया है। अब निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल के इंटरनेशनल लिंक ( International Link ) का खुलासा हुआ है। ईडी को इस बात की जानकारी दुमका ( Dumka ) और पाकुड़ ( Pakir ) के डीएमओ ( DMO ) से पूछताछ में मिली है। डीएमओ ने पूजा सिंघल ( Pooja Singhal ) के इंटरनेशनल लिंक के राज से पर्दा उठाया है।

ईडी ( ED investigation ) से पूछताछ में दुमका और पाकुड़ के डीएमओ से खुलासा किया है कि गिट्टी को अवैध तरीके से बांग्लादेश भेजा जाता था। इसके पीछे आईएएस पूजा सिंघल ( IAS Pooja singhal ) का हाथ था। गिट्टी के इस अवैध कारोबार से आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल सीधे तौर पर जुड़ीं थीं।

देश और विदेश में है ब्लैक स्टोन चिप्स की मांग

ताजा अपडेट के मुताबि​क पाकुड़ से स्टोन चिप्स साहेबगंज के रास्ते बांग्लादेश जाया करते थे और फिर बांग्लादेश से दूसरे देशों में इन ब्लैक स्टोन की सप्लाई की जाती थी। पिछले दिनों साहेबगंज में हुए पानी जहाज हादसे के बाद ये बातें जोरशोर से उठीं। मामले में यह बात सामने आई थी कि जहाज से अवैध पत्थर की भी ढुलाई होती है।

पाकुड़ के ब्लैक स्टोन चिप्स काफी हल्के होते हैं और यहां के स्टोन चिप्स पूरे एशिया में नंबर 1 पोजिशन पर आते हैं। इसकी खूबी की वजह से इसकी मांग काफी है। यहां खनन कारोबारियों की अच्छी पैठ है। इन इलाकों में खनन पादधिकारी का पद मलाईदार पोस्ट की श्रेणी में है।

इंटरनेशनल कनेक्श्न को खंगालने में जुटा

आईएएस पूजा सिंघल मामले ( IAS Pooja singhal Case ) की जांच की आंच पाकुड़, दुमका और साहेबगंज के डीएमओ पर भी पड़ी है। ईडी के अधिकारियों के मुताबिक दुमका और पाकुड़ डीएमओ से पूछताछ में कई अहम जानकारियां मिली हैं। ईडी अब इस इंटरनेशनल कनेक्शन को खंगालने में जुटा है। बता दें कि आईएएस पूजा सिंघल के घर से 20 करोड़ रुपए बरामद हुए थे। सीए ने बताया कि ये पैसे पूजा सिंघल हैं। पूजा सिंघल वर्तमान में ईडी की हिरासत में हैं।


(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू-ब-रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story