झारखंड

झारखंड : ओरमांझी में युवती की सिरकटी लाश मिलने के मामले में मुख्य आरोपी की पुलिस ने की पहचान

Janjwar Desk
12 Jan 2021 7:02 AM GMT
झारखंड : ओरमांझी में युवती की सिरकटी लाश मिलने के मामले में मुख्य आरोपी की पुलिस ने की पहचान
x

मुख्य आरोपी बिलाल व मृत लड़की सूफिया का फाइल फोटो।

रांची के ओरमांझी में युवती की नग्न अवस्था में सिर कटी लाश मिलने के मामले में पुलिस ने पांच लाख का इनाम घोषित किया है और अब बिलाल की तसवीर जारी कर लोगों से सूचना देने की मांग की है...

जनज्वार ब्यूरो। झारखंड के रांची जिले के ओरमांझी थाना क्षेत्र में तीन जनवरी को एक युवती की सिरकटी लाश मिलने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी की पहचान कर ली है और उसकी तसवीर जारी की है। इस हत्याकांड के पीछे शेख बिलाल नामक शख्स को मुख्य आरोपी के रूप में पुलिस ने चिह्नित किया है। इस मामले में पुलिस ने की कोई जानकारी होने पर लोगों से सूचना की अपील भी की है और इनाम भी घोषित किया है।

मालूम हो कि युवती की नग्न अवस्था में सिरकटी लाश मिलने के बाद रांची में खास बवाल हुआ था और उग्र प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले को रोक कर चार जनवरी को उस पर हमला किया था। इस मामले केा लेकर राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने भी चिंता जताते हुए राज्य की छवि खराब होने की बात कहते हुए मुख्यमंत्री से कार्रवाई के लिए कहा था।

पिठोरिया थाना क्षेत्र के चंदवे गांव के तालाब में सोमवार को युवती के सिर की तलाश करती पुलिस टीम।

बिलाल खान हाल ही में जेल से बाहर निकला है और वह फरार है। सिर कटी लाश वाली युवती की पक्की पहचान एक दंपती से उसके डीएनए के मिलान के बाद किए जाने की संभावना है। हालांकि जंगल में मिली युवती के शव की पहचान चान्हो इलाके के चटवल गांव के एक दंपती ने की है। अब उनके डीएनए का मिलान किया जाएगा। अगर उस दंपती के रूप में युवती के शव की पहचान सुनिश्चित होती है तो पुलिस इस मामले का खुलासा कर सकती है। दंपती की लापता बेटी के आधार कार्ड को भी पुलिस ने प्राप्त कर लिया है जिसके जरिए फिंगर प्रिंट का मिलान शव के फिंगर पिं्रट से किया जाएगा।


दंपती की बेटी एक व्यक्ति की पत्नी के रूप में रही थी जिसे पुलिस ने हिरासत में लिया है। वहीं, बिलाल को उसका पहला पति बताया जा रहा है। वह बिलाल रांची जिले के पिठोरिया थाना क्षेत्र के चंदवे का राहने वाला है और उस पर पूर्व से अपराध के कई मामले दर्ज हैं। वह 2012 में एक हत्याकांड से चर्चा में आया था और उस पर लूट, रंगदारी सहित कई अन्य मामले पहले से दर्ज हैं।

बिलाल के सिर पर पुलिस ने पांच लाख रुपये का इनाम घोषित किया है और उसे शरण देने वाले पर भी कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it