झारखंड

झारखंड में थानेदार बोला, हम एक-दो नहीं 50 की हत्या किए हैं, भैरव सिंह की भी गिरा देंगे लाश

Janjwar Desk
8 Jan 2021 8:16 AM GMT
झारखंड में थानेदार बोला, हम एक-दो नहीं 50 की हत्या किए हैं, भैरव सिंह की भी गिरा देंगे लाश
x
भैरव सिंह बीते दिनों मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला किए जाने का आरोपी है। उसने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। इस बीच उसके परिजनों को फोन पर थानेदार द्वारा धमकाने का एक ऑडियो वायरल हुआ है, जिस पर राज्य की राजनीति गरमा गयी है...

जनज्वार ब्यूरो। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर 4 जनवरी 2021 की शाम को रांची में भीड़ के एक समूह द्वारा किए गए हमले में एक दिलचस्प मोड़ आया है। इस हमले के एक प्रमुख आरोपी भैरव सिंह के रिश्तेदार शक्ति सिंह और रांची के सुखदेवनगर थाना के थानेदार सुनील तिवारी के बीच बातचीत का कथित आडियो इन दिनों राज्य में वायरल हो रहा है जिसमें थानेदार शक्ति सिंह को खुली चेतावनी दे रहा है कि वह भैरव सिंह की लाश गिरा देगा।

वायरल आडियो में सुनील तिवारी फोन पर शक्ति सिंह को यह कहते सुने जा रहे हैं कि भैरव सिंह को कह दीजिएगा कि उसकी लाश गिरेगी, हमने एक-दो नहीं 50 को मारा है। हालांकि दारोगा सुनील तिवारी ने बाद में इस ऑडियो में खुद की आवाज होने की बात से इनकार किया। उन्होंने कहा कि उनकी कोई बातचीत नहीं हुई है। सुनील तिवारी ने यह भी कहा कि शक्ति सिंह के पास यह आॅडियो कहां से आया हम नहीं जानते। वहीं, शक्ति सिंह का इस मामले में पक्ष नहीं आया है।

उधर, इस मामले को भाजपा ने झपक लिया है और राज्य में कानून व्यवस्था का मामला उठा दिया है। भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी से शुक्रवार को भैरव सिंह के परिजनों ने मुलाकात की और इस मामले में अपनी शिकायत दर्ज कराते हुए मदद की गुहार लगायी। इस मामले को लेकर मरांडी ने ट्वीट किया : अब राज्य में पुलिसवालों से ही लोगों को डर सताने लगा है। आज भैरव सिंह के परिजन ने मुझे थानेदार की धमकी वाली ऑडियो क्लिप सौंपी है और परिवार की सुरक्षा की गुहार लगाई है। यह मामला बेहद गंभीर है। ऐसे पुलिस कर्मियों पर तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए। मरांडी ने इस ट्वीट को झारखंड पुलिस को टैग किया।

इससे पहले मरांडी के राजनीतिक सलाहकार सुनील कुमार तिवारी ने ऑडियो क्लिप ट्वीट किया जिसे मरांडी ने भी रिट्वीट किया। सुनील कुमार तिवारी ने अपने ट्वीट में लिखा : सोशल मीडिया पर आज यह अपुष्ट ऑडियो वायरल हुआ है। इसकी सत्यता की पुष्टि होना अभी बाकी है, लेकिन अगर यह सच है तो यह कन्फ्यूजन हो रहा है कि यह शख्स पुलिस वाला है या खूंखार डाकू, जो पचास मर्डर कर चुके होने का दावा करते हुए इक्यावनवा मर्डर करने की खुलेआम चुनौती डंके की चोट पर दे रहा है?

मरांडी ने इस मामले में रांची के एसएसपी से संज्ञान लेने को कहा है। उन्होंने कहा है कि भैरो सिंह को रिमांड पर लिया गया है। उनके साथ कोई वारदात होता है तो इसके लिए पुलिस के आलाधिकारियों को जिम्मेवार माना जाएगा। ऐसा न हो कि पुलिस का यह खतरनाक खेल हेमंत सोरेन सरकार के ताबूत का कील बन जाए। मालूम हो कि भैरव सिंह ने गुरुवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया और कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले को रोकने की मंशा नहीं थी ओरमांझी रेप व मर्डर केस का विरोध जताना उद्देश्य था। मालूम हो कि रांची जिले के ओरमांझी प्रखंड में एक युवती की सिर कटी लाश मिली थी जिसका विरोध जताने के लिए लोगों ने सीएम का काफिला रोक दिया था और बाद में उस पर उपद्रवियों ने हमला बोल दिया था। झामुमो ने इसके पीछे भाजपा का हाथ बताया था, जबकि भाजपा ने इसे राज्य के कानून व्यवस्था की गंभीर हालत का प्रमाण बताया।

(नोट : जनज्वार इस वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।)

Next Story

विविध

Share it