राष्ट्रीय

Jitendra Narayan Tyagi बने वसीम रिजवी की बेल हरिद्वार कोर्ट से खारिज, बौखलाए संतो ने बुलाई आपात बैठक

Janjwar Desk
15 Jan 2022 12:51 PM GMT
Jitendra Narayan Tyagi बने वसीम रिजवी की बेल हरिद्वार कोर्ट से खारिज, बौखलाए संतो ने बुलाई आपात बैठक
x

(वसीम रिजवी की बेल हरिद्वार कोर्ट से खारिज)

Jitendra Narayan Tyagi : पैगंबर मोहम्मद साहब पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने और भड़काऊ भाषण देने के मामले में जितेंद्र नारायण त्यागी और वसीम रिजवी के खिलाफ हरिद्वार शहर कोतवाली में कुल तीन मुकदमे दर्ज हैं...

Jitendra Narayan Tyagi : धर्मनगरी कहे जाने वाले हरिद्वार में हुई कथित धर्म संसद (Dharm Sansad) में मुसलमानों के खिलाफ हुई जहरीली बयानबाजी के मामले में हाल ही में हिन्दू बने शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) की जमानत याचिका हरिद्वार कोर्ट ने खारिज कर दी है। जमानत याचिका खारिज होते ही संतो ने आपात बैठक बुलाई है।

जहरीले भाषण देने के आरोप में जेल भेजे गए त्यागी की जमानत याचिका सीजेएम हरिद्वार से खारिज होने के बाद रिजवी के वकील सत्र न्यायालय में अपील करेंगे।

गौरतलब है कि पैगंबर मोहम्मद साहब पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने और भड़काऊ भाषण देने के मामले में जितेंद्र नारायण त्यागी और वसीम रिजवी के खिलाफ हरिद्वार शहर कोतवाली में कुल तीन मुकदमे दर्ज हैं।

एक मुकदमे में पुलिस आरोपी को 41 सीआरपीसी के तहत नोटिस जारी कर मामले को टालने में लगी थी। लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा दस दिन में राज्य सरकार से इस प्रकरण की रिपोर्ट तलब किये जाने के कारण प्रदेश में आचार संहिता लगने के बाद गुरुवार को नारसन बॉर्डर से जितेंद्र नारायण त्यागी और वसीम रिजवी को गिरफ्तार कर लिया गया।

इस गिरफ्तारी के विरोध में स्वामी यति नरसिंहानंद और कई संतो ने सर्वानंद घाट पर आंदोलन भी शुरू किया था। लेकिन पुलिस पर कोई दबाव काम नहीं आया और वसीम को जेल की हवा खानी पड़ी। शनिवार को जितेंद्र नारायण त्यागी की जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए सीजेएम मुकेश चंद्र आर्य की अदालत ने अर्जी खारिज कर दी।

उधर गंभीर अपराध में लिप्त जितेंद्र की जमानत याचिका खारिज होने के बाद संतो ने इस मामले में आपात बैठक का आह्वान किया है।

Next Story

विविध

Share it