राष्ट्रीय

Bihar : कन्हैया का नीतीश कुमार पर तंज, कहा - बिहार में फंस गया 'विकास'

Janjwar Desk
24 Oct 2021 4:06 AM GMT
Bihar : कन्हैया का नीतीश कुमार पर तंज, कहा - बिहार में फंस गया विकास
x

कांग्रेस को कन्हैया कुमार का लाभ नहीं मिला। 

Bihar: लोगों को रोजगार, शिक्षा, इलाज के साथ हनीमून मनाने के लिए भी दूसरे राज्यों का रुख करना पड़ता है।

Bihar : सीपीआई से कांग्रेस में शामिल होने के बाद जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ( Kanhaiya Kumar ) बिहार की राजनीति में पूरी तरह से सक्रिय हो गए हैं। तारापुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव के तहत पार्टी प्रत्याशी राजेश मिश्रा के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे कन्हैया कुमार ने कहा कि बिहार में विस्थापन सबसे बड़ा मुदृदा है। उन्हेंने नीतीश सरकार ( CM Nitish Kumar ) पर तंज कसते हुए कहा कि बिहार में हालात ऐसे हैं कि लोगों को रोजगार, शिक्षा, इलाज के साथ हनीमून मनाने के लिए भी दूसरे राज्यों का रुख करना पड़ता है। बिहार में विकास नीतीश कुमार के चक्कर में जाकर फंस गया है। विकास के नाम पर सीएम नीतीश ने प्रदेश के लोगों को भ्रमित कर रखा है। अब प्रदेश के लोगों को सोचना होगा कि सही मायने में बिहार ( Bihar ) का 'विकास' कौन कर सकता है।

कांग्रेस राजद से बड़ी पार्टी

कांग्रेस और राजद ( Congress and RJD ) के अलग-अलग उप चुनाव लड़ने के मुद्दे पर उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि लालू जी की पार्टी के नेताओं को यह भूलना नहीं चाहिए कि कांग्रेस बड़ी पार्टी है। हम लोग बड़ी पार्टी का हिस्सा हैं। बड़ी पार्टी को बड़ा दिल रखना चाहिए। इस बात का ध्यान राजद को भी रखने की जरूरत है। छोटी-छोटी चीजों पर ध्यान नहीं देना चाहिए। जनता का साथ जरूरी होता है। जब जनता का साथ होगा तो बाकी लोग भी साथ आ जाएंगे। किसी का नाम लिए बगैर कहा कि एक पढ़े-लिखे इंसान भी लठैत की भाषा बोलने लगा है। उन्हें बताना चाहिए कि कांग्रेस छोड़कर क्या कोई ऐसा दल है, जिसने बीजेपी ( BJP ) को गले नहीं लगाया हो। कांग्रेस-राजद के बीच सियासी गठबंधन टूटने के पीछे अहम मुद्दा बिहार उपचुनाव में सीटों के आवंटन पर सहमति नहीं बनना और दोनों पार्टियों के प्रत्याशियों को चुनावी मैदान में उतरना है।

सियासी स्ट्राइक रेट में कांग्रेस आगे

कन्हैया कुमार ( Kanhaiya Kumar ) ने सियासी स्ट्राइक रेट पर सवाल उठाने वालों को चेताते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 में बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से एक सीट विपक्ष ने जीती और वह कांग्रेस की झोली में आई। जो बीजेपी से लड़ना चाहते हैं, वह कांग्रेस के साथ होंगे और जो ऐसा नहीं चाहते हैं वह केवल सियासी समीकरणों की बात करेंगे। बिहार सरकार के कामकाज पर तंज कसते हुए कहा कि पढ़ाईए रोजगार व इलाज के लिए लोग बाहर जा रहे हैं। बदले में उन्हें गाली व गोली मिल रही है। जनता जानना चाहती है कि उन 30 वर्षों में क्या हुआ जब कांग्रेस सत्ता से बाहर थी। बता दें कि इन 30 वर्षों में 15 साल राजद सत्ता में रह चुकी है। कांग्रेस जात.धर्म से ऊपर उठकर कांग्रेस सामाजिक न्याय व सामाजिक एकता कायम करेगी।

बता दें कि बिहार में कुशेश्वरस्थान और तारापुर विधानसभा सीट पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव होने हैं। इसी कड़ी में शनिवार को कन्हैया कुमार तारापुर पहुंचे। तारापुर में उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी राजेश कुमार मिश्रा के लिए प्रचार प्रसार किया। कन्हैया 25 अक्टूबर तक तारापुर में मौजूद रहेंगे। वह कांग्रेस की नैया पार लगाने के लिए लगातार जनसंपर्क और जनसभाएं करेंगे।

Next Story

विविध

Share it