राष्ट्रीय

Kanpur Crime News : अय्याशी में रोड़ा बनी पत्नी को बिजनेसमैन ने रास्ते से हटाया, हत्या को हादसा बनाने के लिए फांसी पर लटकाया

Janjwar Desk
20 Nov 2021 1:38 PM GMT
Kanpur Crime News : अय्याशी में रोड़ा बनी पत्नी को बिजनेसमैन ने रास्ते से हटाया, हत्या को हादसा बनाने के लिए फांसी पर लटकाया
x
Kanpur Crime News : सूर्यांश के घर से पुलिस को आंचल की आत्महत्या करने की सूचना दी गई। इसपर पुलिस सूर्यांश के घर पहुंची तो आंचल का शव कमरे में पंखे के कुंडे से लटकता हुआ पाया गया। घर से सूर्यांश समेत सभी परिवारी सदस्य फरार मिले।

Kanpur Crime News : उत्तर प्रदेश में 2022 चुनाव से पहले अपराधों की झड़ी लगी हुई है। जिसपर कानपुर शहर शायद क्राइम का सिरमौर होना चाह रहा। तमाम फजीहतों के बाद अब नया कांड एक हाईप्रोफाइल हत्या के रूप में सामने आया है। इस अपराध में एमडीएच (MDH) मसाले के बड़े डिस्ट्रीब्यूटर की पत्नी का संदिग्ध हालात में शव प्राप्त हुआ है।

पूरा मसला शुक्रवार 19 नवंबर की देर रात का है, जब यह हत्या हो गई। विवाहिता का शव कमरे के अंदर फांसी के फंदे पर लटका हुआ मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। मायके वालों ने सब्जी मसाला कारोबारी पर पत्नी की हत्या के बाद शव फांसी के फंदे पर लटकाने का आरोप लगाया है। साथ ही मृतका के पति सूर्यांश खरबंदा, सास निशा, फूफा भरत ग्रोवर, बुआ मीनाक्षी, अन्नु खुल्लर, बहनोई पुनीत कोटवानी, नन्द निकिता कोटवानी सहित तनया ग्रोवर के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र और दहेज हत्या जैसी गम्भीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करवाया है।

इन सभी पर मुकदमा लिखे जाने के बाद पुलिस ने आरोपी के फूफा और बुआ को हिरासत में ले लिया है और दोनों से पूछताछ चल रही है। वहीं ससुरालीजन मामले में आत्महत्या करने की बात कह रहे हैं। घटनास्थल पर फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य एकत्र किए है और पुलिस ने शव पोस्टमार्टम में भेजकर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।


जानकारी के मुताबिक काकादेव के काकादेव में रहने वाले प्लास्टिक जरीकैन फैक्ट्री संचालक पवन ग्रोवर ने 9 फरवरी 209 को अपनी बेटी आंचल की शादी नजीराबाद थानांतर्गत अशोक नगर निवासी नामचीन सब्जी मसाला उत्पाद के डिस्ट्रीब्यूटर सूर्यांश खरबंदा से की थी। शुक्रवार 19 नवंबर रात लगभग दो बजे सूर्यांश के घर से पुलिस को आंचल की आत्महत्या करने की सूचना दी गई। इसपर पुलिस सूर्यांश के घर पहुंची तो आंचल का शव कमरे में पंखे के कुंडे से लटकता हुआ पाया गया। घर से सूर्यांश समेत सभी परिवारी सदस्य फरार मिले। इसके बाद पुलिस ने मायके में घटना की सूचना दी।

घटना की जानकारी मिलते ही पवन ग्रोवर, उनके बेटे अक्षय ग्रोवर व रिश्तेदार अशोक नगर पहुंचे। पिता पवन ग्रोवर ने बताया कि शादी के बाद से बहन को दहेज के लिए सूर्यांश अक्सर तंग करता था। जबकि वह लोग हैसियत से ज्यादा दहेज दे चुके थे, लेकिन सूर्यांश उनपर लगातार कारोबार के लिए 70 लाख रुपये देने का दबाव बना रहा था। उन्होंने आरोप लगाया कि सूर्यांश के अन्य युवतियों से अवैध संबंध हैं और वह उनकी बेटी को प्रताड़ित करता था।

लड़की के परिजनों की माने तो इससे पहले 12 नवंबर को जेवर चुराकर सूर्यांश ले जाने लगा तो आंचल ने देख लिया। इसपर आंचल ने पुलिस को सूचना दी लेकिन सूर्यांश के दबाव में पुलिसकर्मी वापस लौट गए। इसके बाद 13 नवंबर को फिर सूर्यांश और आंचल के बीच जेवर को लेकर बहस हुई बावजूद इसके पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

लड़की के पिता पवन का आरोप है कि पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने से सूर्यांश का हौसला बढ़ गया और उसने आंचल की हत्या करके आत्महत्या का रूप देने के लिए शव पंखे के कुंडे से फांसी के फंदे पर लटका दिया। एसीपी नजीराबाद संतोष कुमार सिंह ने जनज्वार को बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर आंचल की मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी।

व्हाट्सएप चैट से घटना में आया नया मोड़

परिजनों का दावा है कि बेटी आंचल ने चैट के जरिए अपनी और दो साल के बेटे अयांश की जान को खतरा बताया था। चैट का यह मैसेज 15 नवंबर की शाम 07 बजकर 53 मिनट पर किया गया है।


अपनी चैट में आंचल लिखती हैं कि पापा मेरी बात ध्यान से सुनिए मेरी और अयांश की जान को खतरा है। किरण और राधा दोनों लड़कियां मिली हुई हैं। इस साजिश में। आगे लिखा कि आप प्लीज पुलिस को इंफार्म कर दीजिए। जिसके बाद अब यह कांड सामने आया है।

Next Story