राष्ट्रीय

Kanpur Crime News : 'बहुत दबंगई दिखाता था..निपटा दिया' जूही में हिस्ट्रीशीटर के हत्यारों ने शराब के नशे में खोल दिया मर्डर का सच

Janjwar Desk
8 Nov 2021 6:22 AM GMT
kanpur news
x

(नाले से हिस्ट्रीशीटर विजय का शव निकलवाती पुलिस) 

हिस्ट्रीशीटर विजय सिंह की हत्या करने के बाद आरोपी शराब के नशे में इलाके में घूमकर बातें कर रहे थे 'बहुत दबंगई दिखाता था..निपटा दिया।' इस बात को परिजनो ने सुना तो सभी ने मिलकर आरोपियों को दबोच लिया...

Kanpur Crime News : कानपुर के जूही मिलिट्री कैंप (Juhi Military Camp) की कच्ची बस्ती निवासी 32 वर्षीय हिस्ट्रीशीटर विजय सिंह उर्फ पुत्ती को उसके ही दौस्तों ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारोपियों ने हीस्ट्रीशीटर का शव एक नाले में फेंका और फरार हो गये। मृतक के परिजनों ने खुद ही दो आरोपियों को रविवार शाम दबोच लिया। पिटाई करने पर दोनो ने वारदात कबूल कर ली।

जानकारी के मुताबिक कच्ची बस्ती निवासी विजय सिंह उर्फ पुत्ती शुक्रवार देर शाम चौबेपुर (Chaubepur) की रहने वाली अपनी बहन के घर जाने की बात कहकर निकला था। लेकिन वह बहन के यहां पहुँचा ही नहीं। और तो उसका मोबाइल भी बंद हो गया। वापस ना आने पर शनिवार परिजनों ने थाने में सूचना दी। जूही पुलिस ने घरवालों को टरका दिया।

रविवार को हिस्ट्रीशीटर विजय के इलाकाई दोस्त शिवा और नेता शराब के नशे में धुत होकर किसी की हत्या करने की बातचीत कर रहे थे। जानकारी होने पर परिजनों ने दोनो को दबोच लिया। परिजनों द्वारा पिटाई करने पर दोनो ने कबूला की उनने ही विजय की लाठी व डंडों से पीटकर हत्या कर दी है। और हत्या करने के बाद मेनहोल में लाश फेंक दी।

पुलिस को जानकारी हुई तो पाँच घण्टे की मशक्कत के बाद जलकल कर्मियों से लाश निकलवाई गई। एडीसीपी मनीष सोनकर ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में इलाके के ही रहने वाले छोटू, सुनील नेता, रंजीत व शिवा के खिलाफ हत्या की धारा में रिपेर्ट दर्ज कर सुनील, शिवा और रंजीत को हिरासत में ले लिया है। उनका अन्य साथी छोटू फरार है।

बहुत दबंगई करता था निपटा दिया

हिस्ट्रीशीटर विजय सिंह की हत्या करने के बाद आरोपी शराब के नशे में इलाके में घूमकर बातें कर रहे थे 'बहुत दबंगई दिखाता था..निपटा दिया।' इस बात को परिजनो ने सुना तो सभी ने मिलकर आरोपियों को दबोच लिया। पिटाई करने पर उन्होने हत्या की बात कबूल की और शव को नाले में ठिकाने लगाने की बात बताई।

मृतक पर दर्ज थे 13 मुकदमें

मृतक हिस्ट्रीशीटर पर 13 आपराधिक मुकदमें दर्ज थे। उसके पिता रिटायर्ड होमगार्ड हैं। पुलिस की जांच में सामने आया कि मृतक इलाकाई लोगों को प्रताड़ित करता था। शुक्रवार रात नशे में विजय ने छोटू के घर में घुसकर उसकी पत्नी से छेड़छाड़ भी की थी। जिसपर उसका छोटू से विवाद भी हुआ था। इसी खुन्नस में छोटू, शिवा, नेता व अन्य साथियों ने मिलकर विजय को मौत के घाट उतारकर शव नाले में फेंक दिया।

Next Story

विविध