कश्मीर

कश्मीर में हुए आतंकी हमले में BJP युवा मोर्चा के महासचिव समेत 3 भाजपा नेताओं की हत्या

Janjwar Desk
29 Oct 2020 6:34 PM GMT
कश्मीर में हुए आतंकी हमले में BJP युवा मोर्चा के महासचिव समेत 3 भाजपा नेताओं की हत्या
x

photo : social media

जनज्वार। जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में गुरुवार देर रात हुए आतंकी हमले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के तीन कार्यकर्ता मारे गए। मारे गए कार्यकर्ताओं में एक जिला यूथ विंग का अध्यक्ष शामिल है।

29 अक्टूबर की रात को कुलगाम में आतंकवादियों ने बीजेपी युवा मोर्चा के महासचिव फिदा हुसैन समेत 3 भाजपा नेताओं को मौत के घाट उतार दिया है। दो अन्य भाजपा नेताओं की पहचान उमर रशीद बेग और अब्देर रशीद बेग के तौर पर हुई है।

कुलगाम पुलिस के मुताबिक उसे 29 अक्टूबर की रात 8 बजे बीजेपी के तीन नेताओं पर आतंकी हमले की सूचना मिली थी, जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। शुरुआती छानबीन के बाद पुलिस ने बताया कि आतंकवादियों ने भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं पर गोली चलाई थी, जिनकी पहचान फिदा हुसैन, उमर रशीद बेग और अब्देर रशीद बेग के रूप में की गयी है। बुरी तरह से घायल तीनों भाजपा नेताओं को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित किया।

इस आतंकी हमले के बारे में जो शुरुआती जानकारी मिल रही है, उसके मुता​बिक आतंकी एक वाहन पर सवार होकर आए थे और भाजपा नेताओं पर हमला करने के बाद मौके से भाग गए।

कुलगाम पुलिस ने इस हत्याकांड के बाद संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है और वह मामले की जांच कर रही है। भाजपा नेताओं की हत्या के बाद संबंधित इलाके की घेराबंदी कर ली गयी है। गौरतलब है कि कुलगाम के अलावा शोपियां में भी आतंकियों ने हमला किया था, जिसमें एक युवक बुरी तरह जख्मी हुआ है। उसे भी इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकी हमले में मारे गये 3 भाजपा नेताओं की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया है, 'मैं 3 युवा बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्‍या की निंदा करता हूं। वे जम्‍मू-कश्‍मीर में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाले उज्ज्वल युवा थे। दुख के इस समय में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। उनकी आत्मा को शांति मिले।'

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से कश्मीर में लगातार भाजपा नेता आतंकियों के निशाने पर हैं। पिछले महीने मध्य कश्मीर के बडगाम जिले में बीजेपी के एक कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। वहीं बडगाम के दलवाश गांव में एक बीजेपी कार्यकर्ता और ब्लॉक विकास पार्षद (बीडीसी) ब्लॉक खग को भी आतंकियों ने गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया था।

इससे पहले अगस्त माह में दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों ने भाजपा नेता सज्जाद अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

वहीं जुलाई में बांदीपोरा में आतंकियों ने बीजेपी के नेता वसीम बारी की हत्या की थी। आतंकवादियों ने न सिर्फ वसीम बारी बल्कि उनके पिता और भाई को भी अपना निशाना बनाया था। जब उन पर हमला किया गया तब वे तीनों दुकान पर थे। भाजपा नेता के साथ साथ उनके पिता और भाई की भी इस हमले में मौत हो गयी।

Next Story

विविध