राष्ट्रीय

Lakhimpur Kheri : घर से लोड पिस्टल लेकर निकला था आशीष टेनी, पत्रकार का भाई बोला टीवी वाले किसानो के खिलाफ गवाही का बना रहे प्रेशर

Janjwar Desk
7 Oct 2021 8:15 AM GMT
lakhimpur kheri
x

(राजधानी लखनऊ में जलती पुलिस की जीप filephoto)

Lakhimpur Kheri : खुद मीडिया वाले और कुछ टीवी चैनलों के पत्रकार अब हमसे यह कहलवाने की कोशिश कर रहे हैं कि उसे किसानों ने पीट-पीटकर मारा जो कि वास्तव में हुआ नहीं है...

Lakhimpur Kheri Update (जनज्वार) : लखीमपुर खीरी हिंसा में आए दिन नए-नए राज सामने आ रहे हैं। अब एक तरफ लवप्रीत के चाचा ने एक वीडियो दिखाते हुए दावा किया है कि मंत्री अजय मिश्रा टेनी का पुत्र आशीष टेनी घर से पिस्टल लोड कर ले गया था। वहीं, मारे गए पत्रकार रमन कश्यप के परिजनों का आरोप है कि उन पर किसानों के खिलाफ बयान देने का दबाव बनाया जा रहा है।

रमन के परिजन शुरुआत से ही केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष और उसके साथियों पर पत्रकार की हत्या का आरोप लगा रहे हैं। रमन के भाई ने कहा कि कुछ लोग उनसे किसानों पर दोष मढ़ने को कर रहे हैं। रमन के भाई पवन ने बताया, 'मेरे पिता और मैंने सभी को एक ही बयान दिया कि रमन को केंद्रीय मंत्री के काफिले में शामिल गाड़ी से कुचला गया और गोली मारी गई।

लेकिन खुद मीडिया वाले और कुछ टीवी चैनलों के पत्रकार अब हमसे यह कहलवाने की कोशिश कर रहे हैं कि उसे किसानों ने पीट-पीटकर मारा जो कि वास्तव में हुआ नहीं है। इधर बीकेयू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा था कि रमन कश्यप को किसान शहीद के रूप में गिना जाएगा।

जिसपर पवन ने कहा, 'मेरा भाई पत्रकार था लेकिन हम किसान परिवार हैं। टिकैत ने जो कहा वह सही है।' पवन ने आगे कहा, 'मुझे अभी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं मिली है। मुझे कहा गया था कि हमारी शिकायत को एक दूसरी एफआईआर के साथ अटैच करने की प्रक्रिया जारी है जो कि पहले से दर्ज की जा चुकी है। किसानों की एफआईआर में ही हमारी शिकायत भी जोड़ी जा रही है।'

बुधवार देर वायरल हुए यह दोनो ही वीडियो वायरल हो रहा था जिसमें पवन मीडिया पर आरोप लगा रहे थे। पवन वीडियो में कह रहे थे, 'वे हमारे मुंह में शब्द घुसाने की कोशिश कर रहे हैं कि उसे किसानों ने पीट-पीटकर मारा। हमने कहा कि यह झूठ है लेकिन इस पर राजनीति खत्म नहीं हो रही है।'

वहीं, दूसरे वीडियो में लवप्रीत के चाचा ने भी एक वीडियो दिखाते हुए दावा किया है कि 'मंत्री और उनका लड़का सरासर झूठ बोल रहा है, कि वह वहां थे ही नहीं। लवप्रीत के भाई का कहना है कि आशीष मिश्रा टेनी घर से पिस्टल लोड़कर घटनास्थल पर पहुँचा था। उसने कार चढ़ाने के बाद लवप्रीत को गोली मारी थी।'

Next Story

विविध

Share it