राष्ट्रीय

Lakhimpur Kheri Violence : समर्थकों की भीड़ से केंद्रीय मंत्री टेनी की यह बात क्या सरकार पर दबाव बनाने का प्रयास है? वीडियो वायरल

Janjwar Desk
9 Oct 2021 10:43 AM GMT
lakhimpur kheri
x

(घर पर नोटिस लगाती पुलिस और छज्जे से समर्थकों से बात करते अजय टेनी)

Lakhimpur Kheri Violence : क्या मंत्री अपनी ही सरकार को अपने समर्थकों का डर दिखा रहे हैं? पहले उन्होंने किसानों को धमकी दी जिसका विरोध करने उतरे किसानों को उनके बेटे ने कुचल कर मार डाला...

Lakhimpur Kheri Violence Update (जनज्वार) : लखीमपुर खीरी कांड को लेकर केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी से सुबह 11 बजे शुरू हुई पूछताछ अब तक जारी है। पूछताछ के दौरान मंत्री का प्रतिनिधि भी मौजूद है। सवाल है कि, केंद्रीय गृह मंत्रालय में मंत्री पद पर होते हुए, मंत्री के बेटे से, मंत्री के प्रतिनिधि के सामने, मंत्री की पुलिस आखिर क्या पूछेगी?

किसानों को गाड़ी से रौंदकर मारने वाले मंत्री के बेटे को पुलिस ने बतौर गवाह गुरूवार 7 अक्टूबर को नोटिस भेजा था। लेकिन तय समय आशीष टेनी पेश नहीं हुआ। जिसके बाद पुलिस ने कल शुक्रवार दूसरा नोटिस दिया। जिसपर आज शनिवार 9 अक्टूबर 11 बजे अपनी मर्जी से क्राइम ब्रांच आफिस पहुँचा है। मंत्री का बेटा अपने साथ एक दर्जन हलफनामे और कुछ पेन ड्राइव भी लेकर गया है।

इस बीच केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी का एक वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में पूछताछ से पहले मंत्री ने बयान दे दिया है कि 'जांच निष्पक्ष होगी'। ये वो मंत्री बयान दे रहा है जो खुद इस पूरे फसाद की जड़ है। किसानों के नरसंहार का आरोपी सिर्फ बेटा नहीं बल्कि वह भड़काऊ भाषण है जो मंत्री ने दिया था कि दो मिनट नहीं लगेगा, लखीमपुर छोड़ना पड़ जाएगा। अब वही मंत्री गृह मंत्रालय में बैठकर पूरा तंत्र कंट्रोल कर रहे हैं।

मंत्री के घर के बाहर समर्थक इकट्ठा हैं। नारेबाजी हो रही है। मंत्री ने उनसे वादा किया है, 'बेटा पूछताछ के लिए गया है। ऐसी वैसी कोई बात नहीं है। ऐसी वैसी कोई बात हुई तो हम आपके साथ हैं।' मंत्री की इस बात का क्या मतलब है? वे समर्थकों से क्या कहना चाहते हैं? क्या वे अपने बेटे की गिरफ्तारी होने पर समर्थकों को भड़का रहे हैं?

क्या मंत्री अपनी ही सरकार को अपने समर्थकों का डर दिखा रहे हैं? (Lakhimpur Kheri Violence) पहले उन्होंने किसानों को धमकी दी जिसका विरोध करने उतरे किसानों को उनके बेटे ने कुचल कर मार डाला। अब जब सुप्रीम कोर्ट के दखल बाद गिरफ्तारी की संभावना बढ़ गई है, इसलिए वे धमकी भी दे रहे हैं।

वह बार-बार बयानबाजी कर रहे हैं। बार बार झूठ बोल रहे हैं जो पकड़ा जा रहा है। मंत्री के बेटे ने मंत्री के पद का दुरुपयोग किया है। सत्ता के नशे में उसने किसानों को रौंद डाला और अब बाप बेटे मिलकर पुलिस को भी ठेंगे पर लिए घूम रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it