राष्ट्रीय

Loudspeaker Controversy : समाजवादी पार्टी के नेता ने भी घर पर लगाए लाउडस्पीकर, रोज महंगाई डायन का बजाएंगे गाना

Janjwar Desk
17 April 2022 7:10 AM GMT
Loudspeaker Controversy : समाजवादी पार्टी के नेता ने भी घर पर लगाए लाउडस्पीकर, रोज महंगाई डायन का बजाएंगे गाना
x

Loudspeaker Controversy : समाजवादी पार्टी के नेता ने भी घर पर लगाए लाउडस्पीकर, रोज महंगाई डायन का बजाएंगे गाना

Loudspeaker Controversy : सपा नेता रविकांत कहते हैं कि अजान और हनुमान चालीसा का मसला तो जानबूझकर इसलिए उछाला गया है ताकि बुनियादी समस्याओं की ओर जनता का ध्यान ही न जाए....

Loudspeaker Controversy : मस्जिदों में लाउडस्पीकर (Loudspeaker In Mosque) से अजान के खिलाफ सड़कों पर इन दिनों हिंदूवादी हुनमान चालीसा (Hanuman Chalisa) पढ़ रहे हैं। कई जगहों पर तो अजान के समय ही छतों से लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ हो रहा है। हिंदूवादी लोगों के द्वारा चेतावनी दी जा रही है कि ये काम वह रोज करेंगे। इस बीच वाराणसी में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के एक नेता ने भी अपने छत पर लाउडस्पीकर लगा दिए हैं। सपा नेता का कहना है कि वह महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को लेकर लाउडस्पीकर से गाने बजाएंगे क्योंकि यही मुख्य मुद्दे हैं।

सपा नेता रविकांत विश्वकर्मा (Ravikant Vishwakarma) लक्सा क्षेत्र के रहने वाले हैं। उन्होंने अपने छत पर लाउडस्पीकर लगवाए हैं। उनका कहना है कि सुबह शाम महंगाई डायन खाए जात है.. जैसे गानों को इलाके की जनता को सुनाकर महंगाई, बेरोजगारी और शिक्षा स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकारी तंत्र की नाकामी को लोगों के सामने लाएंगे।

रविकांत कहते हैं कि अजान और हनुमान चालीसा का मसला तो जानबूझकर इसलिए उछाला गया है ताकि बुनियादी समस्याओं की ओर जनता का ध्यान ही न जाए। वह दावा करते हैं कि उनमें सच बोलने की हिम्मत है, इसलिए वह जिंदा हैं।

रविकांत ने कहा कि आज देश में मुख्य मुद्दा महंगाई, बेरोजगारी, अच्छी शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं और सुरक्षा है। लाउडस्पीकर से सुनाई देने वाली अजान और हनुमान चालीसा नहीं है। वह कहते हैं कि जब तक उनके जैसे समाजवादी लोग जिंदा हैं जनता से जुड़ मुद्दे उठाते रहेंगे।

रविकांत ने कहा कि हम समाज की ज्वलंत समस्याओं को उठाते रहेंगे। उन्होंने इसके लिए लोगों को आगाह करते हुए कहा कि आप अपने रोजमर्रा के जीवन से जुड़े वास्तविक मुद्दों से मत भटकें। सपा नेता ने कहा कि वह अजान या आरती के समय लाउडस्पीकर नहीं बजाएंगे। वह सभी धर्मों के साथ ही सभी की धार्मिक आस्था का भी सम्मान करते हैं।

मस्जिद में लाउडस्पीकर को लेकर विवाद महाराष्ट्र से तब शुरू हुआ था जब मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने इसके खिलाफ बयान दिया। यही नहीं राज ठाकरे ने इसके बाद एक तय तारीख तक लाउडस्पीकरों को मस्जिद से हटाने की चेतावनी दे डाली थी। इसके बाद राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा भी दर्ज किया गया। देखते-देखते यह विवाद यूपी में भी पहुंच गया। अलीगढ़ में चौराहों पर हनुमान चालीसा और बनारस में घरों पर लाउडस्पीकर लगाकर हनुमान चालीसा का पाठ शुरू हुआ। इसके बाद कानपुर की सड़क पर भी शनिवार को हनुमान चालीसा शुरू हुई। लाउडस्पीकर लगाकर हिंदू संगठन के लोगों ने पाठ किया।

Next Story

विविध