राष्ट्रीय

UGC New Chairman: कौन हैं JNU के कुलपति M Jagadesh Kumar जिन्हें मोदी सरकार ने बना दिया UGC अध्यक्ष, जिनके कार्यकाल में जेएनयू में नकाबपोश बदमाशों ने की थी हिंसा

Janjwar Desk
4 Feb 2022 2:04 PM GMT
UGC New Chairman: कौन हैं JNU के कुलपति M Jagadesh Kumar जिन्हें मोदी सरकार ने बना दिया UGC अध्यक्ष, जिनके कार्यकाल में जेएनयू में नकाबपोश बदमाशों ने की थी हिंसा
x
M Jagadesh Kumar UGC New Chairman: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के कुलपति एम जगदीश कुमार (M Jagadesh Kumar) को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) का चेयरमैन नियुक्त किया गया है.

M Jagadesh Kumar UGC New Chairman: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के कुलपति एम जगदीश कुमार (M Jagadesh Kumar) को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) का चेयरमैन नियुक्त किया गया है. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. कुमार (M Jagadesh Kumar) का जेएनयू में कार्यकाल विवादों से भरा रहा था. पिछले साल अपना कार्यकाल समाप्त होने के बाद वह वर्तमान में कार्यवाहक कुलपति के रूप में कार्यभार संभाल रहे हैं.

शिक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, ''जगदेश कुमार (M Jagadesh Kumar) को यूजीसी (UGC) का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है.'' 65 वर्ष की आयु हो जाने पर प्रोफेसर डीपी सिंह के जीसी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद सात दिसंबर से यह पद खाली था. सिंह ने 2018 में यूजीसी अध्यक्ष का कार्यभार संभाला था. उच्च शिक्षा नियामक के उपाध्यक्ष का पद भी खाली है.

खाली था यूजीसी अध्यक्ष का पद

प्रोफेसर डीपी सिंह के 65 वर्ष की आयु पूरी हो जाने पर यूजीसी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद सात दिसंबर से यह पद खाली था. सिंह ने 2018 में यूजीसी अध्यक्ष का कार्यभार संभाला था. पिछले वर्ष पांच साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद कुमार वर्तमान में विश्वविद्यालय के कार्यवाहक कुलपति के रूप में कार्यभार संभाल रहे हैं. मंत्रालय ने अब तक जेएनयू में उनके उत्तराधिकारी की नियुक्ति नहीं की है.

कौन हैं JNU के कुलपति M Jagadesh Kumar

इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग और संबंधित क्षेत्रों में विशेषज्ञता रखने वाले कुमार ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास से एमएस (ईई) और पीएचडी (ईई) की डिग्री प्राप्त की है. उन्होंने पहले आईआईटी खड़गपुर में सहायक प्रोफेसर और आईआईटी दिल्ली में एसोसिएट प्रोफेसर के रूप में काम किया है.

जेएनयू के हॉस्टल की फीस बढ़ने पर हंगामा

जेएनयू प्रशासन ने हॉस्टल की फीस बढ़ा दी थी, जिसके विरोध में जेएनयू छात्र विरोध प्रदर्शन करने के लिए दिल्ली की सड़कों पर उतर आए थे. राष्ट्रपति से मुलाकात की मांग को लेकर छात्रों ने मार्च भी किया था. इस दौरान पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज और वाटर कैनन का इस्तेमाल किया था.

नकाबपोश बदमाशों ने की थी हिंसा

5 जनवरी 2020 को जेएनयू परिसर में कुछ नकाबपोश बदमाशों ने लाठियों से लैस होकर छात्रों और शिक्षकों पर हमला बोल दिया था. उस दौरान कैंपस में सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया गया, जिसके बाद प्रशासन ने पुलिस बुला ली थी. इस दौरान 13 छात्र घायल हो गए थे. छात्रों के समर्थन में बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण भी कैंपस पहुंची थीं.

Next Story