Top
मध्य प्रदेश

क्या कमलनाथ ने भी खेला नीतीश की तरह संन्यास का दांव, बोले- 'अब मैं आराम करना चाहता हूं'

Janjwar Desk
14 Dec 2020 1:43 PM GMT
क्या कमलनाथ ने भी खेला नीतीश की तरह संन्यास का दांव, बोले- अब मैं आराम करना चाहता हूं
x
74 वर्षीय कमलनाथ के इस बयान को उनके राजनीति से संन्यास लेने से जोड़ कर देखा जा रहा है। हालांकि यह भी माना जा रहा है कि वे ऐसा बयान देकर अपने समर्थन की थाह लेना चाहते हैं और उपचुनाव के बाद भाजपा को ठोस बहुमत मिल जाने के बाद नए सिरे से राजनीति मेें खुद को स्थापित करना चाहते हैं।

जनज्वार ब्यूरो/भोपाल। कांग्रेस के दिग्गज नेता व मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सक्रिय राजनीति से संन्यास लेने का संकेत दिया है। उन्होंने रविवार को अपने क्षेत्र छिंदवाड़ा में कहा कि वे अब आराम करना चाहते हैं और उनके अंदर किसी पद को लेकर कोई महात्वाकांक्षा नहीं है। उन्होंने कहा कि पहले ही मैंने बहुत कुछ हासिल कर लिया है। मैं अब घर पर रहने के लिए तैयार हूूं।

74 वर्षीय कमलनाथ के इस बयान को उनके राजनीति से संन्यास लेने से जोड़ कर देखा जा रहा है। हालांकि यह भी माना जा रहा है कि वे ऐसा बयान देकर अपने समर्थन की थाह लेना चाहते हैं और उपचुनाव के बाद भाजपा को ठोस बहुमत मिल जाने के बाद नए सिरे से राजनीति मेें खुद को स्थापित करना चाहते हैं।

कमलनाथ रविवार को अपने सांसद बेटे नकुल नाथ के साथ कार्यकर्ताओं से एक कार्यक्रम में रू-ब-रू हो रहे थे। इसी दौरान उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या वे अब आराम कर सकते हैं तो इस पर उनके समर्थकों ने कहा कि नहीं फिर से सरकार बनाना है, आपको आराम नहीं करना चाहिए। कमल नाथ ने इस दौरान यह भी कहा कि वे भाजपा की तरह जोड़-तोड़ कर सरकार नहीं बनाना चाहते हैं।

कमलनाथ के इस बयान को करीब 70 साल के नीतीश कुमार के हाल में संपन्न हुए बिहार चुनाव में में दिए उनके बयान से जोड़ करना देखा जा सकता है। बिहार चुनाव में अपनी आखिरी जनसभा में नीतीश कुमार ने कहा था कि यह उनका आखिरी चुनाव है और अंत भला होगा तो तो सब भला होगा इसलिए लोग उन्हें वोट दें। नीतीश को अपने इस भावुक अपील का राजनीतिक लाभ भी हुआ था और एनडीए ने आखिरी चरण वाली सीटों पर महागठबंधन से कड़े मुकाबले में अधिक बेहतर प्रदर्शन किया। हालांकि बाद में नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के लोगों ने उनके संन्यास लेने की मीडिया रिपोर्टाें को खारिज कर दिया था।

कमलनाथ इस समय मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष हैं और विधानसभा में विपक्ष के नेता भी हैं। कमलनाथ के बयान पर मुख्यमंत्री व भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि यह उनकी इच्छा है कि वे रिटायर हों या घर पर रहें। यह निजी मामला है, वे इस पर सोचें।

Next Story

विविध

Share it