मध्य प्रदेश

Covid-19: कोरोना की तीसरी लहर और लॉकडाउन से भयभीत होकर छतरपुर में व्यापारी ने खा लिया POISON

Janjwar Desk
7 Dec 2021 8:21 AM GMT
madhya pradesh
x

(तीसरी लहर और लॉकडाउन के डर से व्यापारी ने खाया जहर)

कोविड-19 की पहली और दूसरी लहर और लॉकडाउन ने उसे काफी घाटा और नुकसान पहुंचाया है। ऊपर से तीसरी लहर और लॉकडाउन का डर बढ़ गया है...

Covid-19: लॉकडाउन (Lockdown) नाम के शब्द से लोग भयभीत हैं। वहीं छोटे व्यापारियों के लिए कोविड-19 और उसे रोकने के लिए लगाए लॉकडाउन जानलेवा साबित हो रहे हैं। अब तीसरी लहर की आशंका से व्यापारी दहशत में हैं। संभावित लॉकडाउन ने उनमें भविष्य को लेकर डर बिठा दिया है।

मध्य प्रदेश के छतरपुर (Chhatarpur MP) में ऐसे ही एक व्यापारी ने डर और नुकसान की आशंका को देखते हुए जान देने की कोशिश की है। मामला छतरपुर जिले के मातगुवा थाना क्षेत्र का है। यहां खड़गांय निवासी कपड़ा व्यापारी अंशुल शर्मा पिता विनय शर्मा ने जहर खाकर जान देने की कोशिश की है। जिला अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। फिलहाल वह ठीक है।

अंशुल का कहना है कि वह गांव में कपड़े की दुकान लगाता है। साथ ही हाट-बाजार और अन्य गांवों में भी बाजार करने जाता है। कोविड-19 की पहली और दूसरी लहर और लॉकडाउन ने उसे काफी घाटा और नुकसान पहुंचाया है। ऊपर से तीसरी लहर और लॉकडाउन का डर बढ़ गया है।

व्यापारी का कहना है कि, इन हालातों ने धंधे की कमर तोड़कर रख दी है। तीसरी लहर की सुगबुगाहट सुनकर वह दहशत में आ गया था। इस वजह से उसने सुसाइड करने के उद्देश्य से घर में रखी चूहा मार दवाई खा ली थी।

2 माह की बेटी की परवरिश की चिंता

अंशुल की दो साल पहले मंजूलता से शादी हुई थी। उसकी दो माह की एक बेटी भी है। अब तक हुए नुकसान और बच्ची की परवरिश की चिंता ने उसको अंदर से हिला दिया है। उसे समझ नहीं आ रहा कि लगातार हो रहे नुकसान की भरपाई कैसे होगी। अब आने वाली आफत उसे जीवनभर उबरने नहीं देगी। इसके डर से उसने जहर खाकर जान देने का प्रयास किया।

Next Story

विविध