मध्य प्रदेश

Gwalior News: हिंदू महासभा ने गांधी के हत्यारे की मनाई पुण्यतिथि, जानकारी के बावजूद BJP शासित MP प्रशासन रहा बेखबर

Janjwar Desk
31 Dec 2021 2:24 PM GMT
Gwalior News: हिंदू महासभा ने गांधी के हत्यारे की मनाई पुण्यतिथि, जानकारी के बावजूद BJP शासित MP प्रशासन रहा बेखबर
x
Gwalior News: BJP शासित मध्य प्रदेश के ग्वालियर में प्रशासन ने कट्टरपंथियों को मौन संरक्षण दे रखा है। इसी का नतीजा है कि आए दिन यहां बापू के हत्यारों की पूजा अर्चना की जाती है।

Gwalior News: BJP शासित मध्य प्रदेश के ग्वालियर में प्रशासन ने कट्टरपंथियों को मौन संरक्षण दे रखा है। इसी का नतीजा है कि आए दिन यहां बापू के हत्यारों की पूजा अर्चना की जाती है। शुक्रवार को यहां एक बार फिर कट्टरपंथी हिंदू संगठन ने बापू के हत्यारों की शान में नारेबाजी की। इस कार्यक्रम की पूर्व से जानकारी होने के बावजूद प्रशासन ने कोई एक्शन नहीं लिया।


शुक्रवार को ग्वालियर में हिंदू महासभा कार्यालय में दत्तात्रेय सदाशिव परचुरे की पुण्यतिथि (murderers of gandhi worshiped in gwalior) मनाई गई. महात्मा गांधी की हत्या के आरोप में परिचुरे को उम्रकैद की सजा दी गई थी. हिंदू महासभा ने दत्तात्रेय सदाशिव परचुरे की 37वीं पुण्यतिथि पर उनकी तस्वीर का अनावरण किया. खास बात यह है कि कार्यक्रम की घोषणा पहले से ही कर दी गई थी, इसके बावजूद पुलिस प्रशासन की तरफ से इसे रोकने के लिए कोई ठोस कदम नहीं किए गए.

सभा को संबोधित करते हुए हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयवीर भारद्वाज ने कहा कि 50 लाख से अधिक हिंदुओं ने भाग लेने में अपना घर खो दिया था। और इसके लिए मोहन दास करमचंद्र गांधी जिम्मेदार थे।

सदाशिव परचुरे बापू की हत्यारे नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे का साथी था. परचुरे ने ही ग्वालियर में स्थित अपने घर में नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे को शरण दी थी. इसके साथ ही परचुरे ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या के लिए नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे को पिस्टल उपलब्ध करवाई थी. इसके लिए डॉ दत्तात्रेय सदाशिव परचुरे को आजीवन कारावास हुआ था.

Next Story

विविध