मध्य प्रदेश

कांग्रेस के विधायकों को पैसा ऑफर कर रही भाजपा, कमलनाथ ने लगाया आरोप

Janjwar Desk
26 Oct 2020 10:54 AM GMT
कांग्रेस के विधायकों को पैसा ऑफर कर रही भाजपा, कमलनाथ ने लगाया आरोप
x
कमलनाथ ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा, 'कई विधायकों ने फोन करके सूचना दी कि भाजपा उन्हें प्रलोभन दे रही है, पैसे की पेशकश कर रही, एडवांस देने की बात कर रही है....

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने दावा किया है कि भाजपा कांग्रेस के विधायकों को पैसों की पेशकश कर रही है। इसकी शिकायत कमलनाथ ने चुनाव आयोग से भी की है। कमलनाथ ने सरकारी तंत्र के दुरुपयोग का आरोप भी भाजपा पर लगाया है। पत्रकारों से बातचीत करते हुए कमलनाथ ने कहा कि भाजपा को आने वाले 10 नवंबर के परिणामों का अंदेशा हो गया है इसलिए उसका इंतजार नहीं कर रही है, सौदेबाजी का खेल शुरू कर दिया गया है, अब उनके पास सिर्फ सौदेबाजी के कोई उपाय नहीं बचा है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह (भाजपा) जान लें कि मध्यप्रदेश की जनता सीधी-साधी और सरल है लेकिक बहुत जागरूक है। आज का मतदाता बहुत समझतार चुनाव तो प्रजातंत्र का उत्सव होता है लेकिन यह तो सौदेबाजी का उत्सव हो गया, बिकाऊ उत्सव हो गया है।

कमलनाथ ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा, 'कई विधायकों ने फोन करके सूचना दी कि भाजपा उन्हें प्रलोभन दे रही है, पैसे की पेशकश कर रही, एडवांस देने की बात कर रही है। मेरा सौदेबाजी की राजनीति में विश्वास नहीं है, मैं चाहता तो ऐसी राजनीति कर सकता था लेकिन मैं मध्यप्रदेश को कभी कलंकित नहीं होने दूंगा, मैं कभी भी सौदेबाजी की राजनीति नहीं करूंगा। कांग्रेस मध्यप्रदेश में सौदेबाजी की राजनीति नहीं कर एक उदाहरण पेश करेगी।'

कमलनाथ ने आगे कहा, 'भाजपा तो खुद ही कह रही है कि अभी दो-तीन विधायक और आ रहे हैं तो क्या बगैर सैदेबाजी के आ रहे हैं? 7 महीने से तो हमारी सरकार भी नहीं है, जनता खुली आंखों से इनकी सच्चाई देख रही है। भाजपा को जितनी सौदेबाजी की राजनीति करना हो करे, जितना प्रलोभन देना हो दे, लेकिन हम सौदेबाजी नहीं करेंगे।'

पूर्व मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि आज मध्यप्रदेश देशभर में कलंकित हो रहा है। जब एक गांव का साधारण व्यक्ति समझ रहा है कि किस कारण से हमारे प्रदेश में उपचुनाव हो रहे हैं तो क्या देश की जनता इस सच्चाई को नहीं समझती है? तीन नवंबर को प्रदेश की जनता तय करेगी कि वह प्रदेश का कैसा भविष्य चाहती है।

Next Story

विविध