मध्य प्रदेश

Khargone Violence Updates : इब्रिस खान हत्या मामले में 5 गिरफ्तार, 1 पर लगा NSA

Janjwar Desk
22 April 2022 1:57 AM GMT
Khargone Violence Updates : इबरिस खान हत्या मामले में 5 गिरफ्तार, 1 पर लगा NSA
x

Khargone Violence Updates : इबरिस खान हत्या मामले में 5 गिरफ्तार, 1 पर लगा NSA

Khargone Violence Updates : खरगोन पुलिस ने इब्रिस खान हत्या मामले में पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

Khargone Violence Updates : मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh ) के खरगोन में रामनवमी समारोह के दौरान हुई सांप्रदायिक हिंसा ( Communal Violence ) में एक व्यक्ति की हत्या के मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों से बातचीत के क्रम में जांच एजेंसियों को 10 अप्रैल की रात आनंद नगर-कपास मंडी इलाके में इब्रिस खान ( Ibris Khan ) पर हमला करने वालों के बारे में जानकारी मिली थी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया था कि हमला करने वाले लोग आनंद नगर-रहीमपुरा इलाके के रहने वाले हैं।

दरअसल, रामनवमी के दिन उपद्रव के दौरान आनंद नगर में पुलिस को अज्ञात व्यक्ति लाश मिली थी। इस मामले में 14 अप्रैल को परिजनों ने थाने में इब्रिस की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। अब इस मामले में पुलिस ने आरोपी दिलीप, संदीप, अजय कर्मा, अजय सोलंकी और दीपक प्रधान को गिरफ्तार किया है।

30 वर्षीय इब्रिस खान ( Ibris Khan ) नगर निगम का कर्मचारी था। वह खरगोन में ​10 अप्रैल को हुई हिंसा के बाद से लापता था। उसका शव आठ दिन बाद खरगोन से करीब 120 किलोमीटर दूर इंदौर के एक मुर्दाघर में मिला था।

इब्रिस का शव ऐसे पहुंचा इंदौर

खरगोन पुलिस ( Khargone Police ) के मुताबिक हिंसा वाली रात 7 से 8 लोगों ने इब्रिस खान ( Ibris Khan ) की हत्या कर दी थी। पुलिस ने कहा कि अगले दिन मिला शव अज्ञात में दर्ज किया गया था। खरगोन में फ्रीजर की सुविधा नहीं होने के कारण इंदौर के मुर्दाघर भेज दिया गया था। परिवार का आरोप है कि पुलिस ने इब्रिस की मौत को छुपाने की कोशिश की।

आखिरी बार पुलिस हिरासत में देखा गया था इब्रिस

इब्रिस खान ( Ibris Khan ) के भाई इखलाक खान ने पुलिस पर मिलीभगत का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उनके भाई को आखिरी बार 10 अप्रैल की शाम को खरगोन पुलिस थाने में पुलिस हिरासत में देखा गया था। आनंद नगर में लोगों ने मेरे भाई पर हथियारों से हमला किया और उसका सिर पत्थर से कुचल दिया। पुलिस ने मीडिया में जाने की धमकी देने के बाद ही उसकी मौत के बारे में परिवार वालों को जानकारी दी।

खरगोन हिंसा में 63 एफआईआर दर्ज

Khargone Violence Updates : बता दें कि 10 अप्रैल को खरगोन में रामनवमी के जुलूस के दौरान दो समूहों के बीच झड़प में एक पुलिस निरीक्षक सहित कई लोग घायल हो गए थे। दोनों ओर से पथराव किया गया था। एक पुलिस निरीक्षक सहित लगभग 4 लोग घायल हुए थे। पुलिस ने झड़पों में शामिल लोगों की जानकारी के लिए 10 हजार के इनाम की घोषणा की थी। इस मामले में अभी तक पुलिस ने 63 प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की है।

Next Story

विविध