Top
मध्य प्रदेश

शिवराज जिस कमरे में रुके उसमें मच्छर होने पर सब इंजीनियर हुआ सस्पेंड, कांग्रेस ने उठाये सवाल

Janjwar Desk
19 Feb 2021 2:22 PM GMT
शिवराज जिस कमरे में रुके उसमें मच्छर होने पर सब इंजीनियर हुआ सस्पेंड, कांग्रेस ने उठाये सवाल
x
बीते दिनों सीधी में यात्री बस बाणसागर बांध की नहर में गिर गई थी, इस हादसे में 52 लोगों की मौत हुई है। मुख्यमंत्री चौहान पीड़ित परिवारों का ढांढस बंधाने उनके बीच पहुंचे थे। रात में उन्हें सीधी के विश्राम गृह में रुकना पड़ा। चौहान जिस कक्ष में रुके, उसकी साफ-सफाई अच्छी नहीं थी और मच्छर थे।

जनज्वार ब्यूरो/भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पिछले दिनों सीधी में हुए हादसे के प्रभावित परिवारों से मुलाकात करने गए और रात विश्राम गृह के कक्ष में बिताई। इस कमरे की साफ-सफाई गड़बड़ होने की वजह से मच्छर थे, इतना ही नहीं भवन पर बना पानी का टैंक भी ओवर फ्लो होता रहा। इसके लिए लोक निर्माण विभाग के सब इंजीनियर को जिम्मेदार ठहराते हुए निलंबित कर दिया गया है।

गौरतलब है कि बीते दिनों सीधी में यात्री बस बाणसागर बांध की नहर में गिर गई थी, इस हादसे में 52 लोगों की मौत हुई है। मुख्यमंत्री चौहान पीड़ित परिवारों का ढांढस बंधाने उनके बीच पहुंचे थे। रात में उन्हें सीधी के विश्राम गृह में रुकना पड़ा। चौहान जिस कक्ष में रुके, उसकी साफ-सफाई अच्छी नहीं थी और मच्छर थे। इसके अलावा पानी की टंकी से पानी बहता रहा।

विश्रामगृह की अव्यवस्था की बात सामने आने पर रीवा के संभागायुक्त राजेश जैन ने लोक निर्माण विभाग के उपयंत्री बाबूलाल गुप्ता को निलंबित कर दिया है। निलंबन आदेश में कहा गया है कि विश्रांतिगृह के आसपास सफाई का अभाव पाया गया और पानी का टैंक लगातार ओवरफ्लो होता रहा। विश्रांतिगृह के कक्ष का रखरखाव विषिष्ट अतिथि की गरिमा के अनुरुप नहीं था।

आज शुक्रवार 19 फरवरी को निलंबन का आदेश जारी करते हुए रीवा संभागीय आयुक्त राजेश कुमार जैन ने कहा कि लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के उप-इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता को सर्किट हाउस में वीआईपी के रहने के बारे में बताया गया था, इसके बाद भी हमें खराब स्वस्छता, कुप्रबंधन और मच्छरों की शिकायत मिली। जैन ने कहा कि प्रोटोकॉल के अनुसार सर्किट हाउस में व्यवस्थाएं नहीं मिली।

निलंबन आदेश में कहा कि गया है कि सब-इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता ने जिला प्रशासन की छवि को धूमिल की और निर्देशों का पालन करने में विफल रहे। गुप्ता को मध्य प्रदेश सिविल सेवा अधिनियम 1966 के अनुसार अपने सरकारी कर्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही के लिए सस्पेंड किया जाता है।

हालांकि सब इंजीनियर के निलंबन को लेकर विपक्ष ने बीजेपी पर हमला बोला है। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अजय यादव ने कहा कि सीएम श्रद्धांजलि देने के लिए गए थे या फिर पर्यटन पर। सीधी में 52 लोगों की जान चली गई, लेकिन सीएम और जिला प्रशासन को मच्छरों और ओवर फ्लो पानी की टंकी को लेकर ज्यादा चिंतित हैं।

Next Story

विविध

Share it