मध्य प्रदेश

Chhatarpur News Today: मां बोली पालतू कुत्ते को घर से भगा दो तो बेटे ने भगाने की बजाय चुन ली खौफनाक मौत

Janjwar Desk
29 Dec 2021 1:31 PM GMT
madhya pradesh
x

(बेटे की मौत की वजह बना घर का पालतू कुत्ता)

Chhatarpur News Today: पालतू कुत्ते ने उसकी मां के हाथ में काट लिया था। इससे मां का हाथ लहूलुहान हो गया था। मां ने कमलेश से शिकायत की और उसे मारने या घर से भगा देने की बात कही थी...

Chhatarpur News Today: मध्य प्रदेश के छतरपुर (Chhatarpur In Madhya Pradesh) में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। एक व्यक्ति ने इसलिए फांसी लगा ली, क्योंकि उसके पालतु कुत्ते को घर से भगा देने का कह दिया गया था। मां के ज्यादा नाराज होने पर उसने कुत्ते को गोद में लेकर फांसी लगा ली और जान दे दी।

जानकारी के अनुसार मामला छतरपुर शहर सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के विश्वनाथ कॉलोनी इलाके का है। यहां 38 वर्षीय कमलेश उर्फ कोटी मसीही, मोहल्ले में खाली पड़े प्लाट पर पेड़ के नीचे झोपड़ी बनाकर रहता था। इसके साथ 65 वर्षीय मां शांति मसीही और एक पालतू कुत्ता भी रहता था।

बुधवार 29 दिसंबर को पालतू कुत्ते ने उसकी मां के हाथ में काट लिया था। इससे मां का हाथ लहूलुहान हो गया था। मां ने कमलेश से शिकायत की और उसे मारने या घर से भगा देने की बात कही। बार-बार कहने पर कमलेश आक्रोशित हो गया और मां से कह दिया कि वह खुद मर जाएगा, पर कुत्ते को नहीं मारेगा और न ही भगाएगा। इससे विवाद बढ़ गया।

कुत्ते के भौंकने की आवाज से चला पता

मां की जिद से परेशान कमलेश ने कुत्ते को गोद में लिया और पास ही लगे पेड़ पर फांसी का फंदा लगाकर झूल गया। इस बीच जंजीर से बंधा कुत्ता अपने मालिक की गोद में बैठा भौंकता रहा, लोगों ने जब कुत्ते के भौंकने की लगातार आवाज सुनी तो पास आए, वहां का नजारा देखकर चौंक गए।

युवक की मौत हो गई थी और कुत्ता गोद में बैठा भौंक रहा था। लोगों ने तत्काल उसके घरवालों और पुलिस को खबर की। जहां पुलिस ने आकर युवक से कुत्ते को अलग किया और शव को उतार कर नीचे खटिया पर रख दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवा दिया है।

अब खुद को कोस रही मां

हादसे के बाद दुखी मां शांति मसीही रो-रोकर अपनी जिद के लिए खुद को कोस रही है। उन्होंने बताया कि वह किसी भी सूरत में कुत्ते को मारने और अपने से अलग करने को तैयार नहीं था। वह कह रहा था कि अगर कुत्ता मरेगा तो मैं भी उसके साथ मर जाऊंगा। हम लोगों ने उसकी बात को नजरअंदाज कर हल्के में लिया और थोड़ी देर बाद पता चला कि उसने कुत्ते के साथ फांसी लगा ली, जिसमें कुत्ता तो बच गया पर वह मर गया।

पीएम रिपोर्ट का इंतजार

सिटी कोतवाली थाना प्रभारी अखिलेश पुरी गोस्वामी ने बताया कि परिजनों के मुताबिक वह कुत्ते को भगाने की बात से नाराज था, इसलिए फांसी लगा ली। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। मामले में मर्ग कायम किया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और जांच उपरांत ही मामला स्पष्ट हो पाएगा और विधिसंवत वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध