Top
राष्ट्रीय

जनता के मुद्दे हल करने साइकिल पर निकलते हैं महाराष्ट्र के 'सुधारक'

Janjwar Desk
28 Dec 2020 1:30 AM GMT
जनता के मुद्दे हल करने साइकिल पर निकलते हैं महाराष्ट्र के सुधारक
x
एक मुख्य सड़क के एक कोने में 60 वर्षीय मृदुभाषी मोहिते चिंतित नागरिकों के एक समूह को देखते हैं और उनकी चिंताओं के बारे में पूछताछ करने के लिए अपनी साइकिल रोक देते हैं....

कोल्हापुर। प्रतिदिन सुबह 7 बजे, कोल्हापुर नगर निगम (केएमसी) के कांग्रेस के डिप्टी मेयर संजय मोहिते अपने घर से बाहर निकलते हैं, सुबह की ताजी हवा में सांस लेते हुए अपनी साइकिल पर बैठते हैं और पश्चिमी महाराष्ट्र के रॉयल शहर के छोटे साइक्स एक्सटेंसन वार्ड का दौरा शरूकरते हैं।

अपने क्षेत्र के 6,000 से अधिक लोगों की सेवा के लिए कांग्रेस नेता की दो घंटे की दिनचर्या पिछले पांच सालों से नहीं बदली है। इस दौरान कई लोग अपनी सुबह के कामों में लगे रहते हैं, तो कई उन्हें देखकर अपना सिर हिलाते हैं, जबकि अन्य नमस्ते या गुड मॉर्निग के साथ उनका अभिवादन करते हैं।

एक मुख्य सड़क के एक कोने में 60 वर्षीय मृदुभाषी मोहिते चिंतित नागरिकों के एक समूह को देखते हैं और उनकी चिंताओं के बारे में पूछताछ करने के लिए अपनी साइकिल रोक देते हैं।

उनमें से एक सड़क के किनारे की नाली की ओर इशारा करता है और बताता है कि कैसे कल शाम से यह अवरुद्ध हो गया है और इससे बदबू फैल रही है और सड़कों पर गंदगी बहने की कगार पर है, जो कि कोल्हापुर के छत्रपति के पूर्व गर्वित शाही राज्य माने जाने वाले क्षेत्र के लिए यह सुखद ²श्य नहीं है।

मोहिते ने बताया, "मैं तुरंत केएमसी में संबंधित व्यक्तियों को बुलाता हूं, जब तक वे एक टीम भेजते हैं, तब तक प्रतीक्षा करता हूं और यह सुनिश्चित करता हूं कि काम जल्द से जल्द पूरा हो। कभी-कभी, इसमें अधिक समय भी लग सकता है, इसलिए मैं इसका नियमित रूप से पालन करता हूं, जब तक की समस्या खत्म न हो जाए।"

फिर, मोहिते की साइकिल अगली समस्याओं को हल करने के लिए दूर निकल पड़ती है, जो कूड़े के ढेर, पानी के मुद्दे, छोटी सड़क की मरम्मत के काम, बंद पड़े स्ट्रीट लाइट आदि होती हैं।

मोहिते ने कहा, 'जन-संपर्क' यह तरीका अपनाने के लिए मैं महात्मा गांधी की जनसेवा के प्रेरित हूं .. गांधीजी जनता के बीच रहते थे और काम करते थे और लोगों की नब्ज टटोलते थे। समस्याएं छोटी हो सकती हैं, लेकिन लोग चुने हुए प्रतिनिधियों से तत्काल निवारण की उम्मीद करते हैं, और लोकतंत्र में यह उनका अधिकार है।

लोग उन्हें प्यार से 'साइकिल सुधारक' बुलाते हैं। उन्होंने कहा कि वह औसतन प्रतिदिन कम से कम दो दर्जन लोगों से मिलते हैं। उन्होंने कहा कि "पूरा वार्ड मुझे व्यक्तिगत रूप से जानता है।"

मोहिते ने अपनी साइकिल पर बैठे-बैठे ही कहा, "आप किसी भी अन्य चुने हुए प्रतिनिधियों जैसे मंत्रियों, विधायकों, सांसदों या नगरसेवकों से किसी भी राजनीतिक दल से पूछ सकते हैं, वे लोगों के प्रति मेरी सेवाओं के बारे में जानते हैं।"

एक अच्छा क्रिकेटर और पूरी जिंदगी कांग्रेसी रहे मोहिते की साइकिल यात्रा बेकार नहीं गई, बल्कि इसका पूरा लाभ मिला - साइक्स एक्सटेंशन वार्ड ने महाराष्ट्र सरकार के प्रतिष्ठित 'संत गडगे महाराज स्वच्छ्ता अभियान' पुरस्कार को पिछले 10 वर्षों में छह बार जीता है।

इसके अलावा मोहिते अमिताभ बच्चन के बड़े प्रशंसक हैं। उन्होंने वार्ड में विभिन्न सामुदायिक और विकास परियोजनाओं के लिए आवंटित उदार निधि प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

कुछ परियोजनाओं में सड़क की मरम्मत, ड्रेनेज नेटवर्क में सुधार, सामुदायिक हॉल की स्थापना, वार्ड के लोगों के लिए एक जिम, उद्यान, एक पैदल ट्रैक आदि शामिल हैं।

एक कोल्हापुर निवासी पी.एम. जोशी ने कहा, "वह न सिर्फ लोगों के मुद्दों को अच्छी तरह से समझते हैं, बल्कि उन्हें अपने वार्ड को अपने सभी लोगों के लिए सबसे अच्छी जगह बनाने के प्रयास के साथ हल करने के लिए एक 'व्यक्तिगत चुनौती' के रूप में भी लेते हैं।"

हालांकि मोहिते प्रौद्योगिकी और आधुनिक संचार साधनों की शक्ति में विश्वास करते हैं, लेकिन उन्हें लगता है कि लोगों से उनकी व्यक्तिगत मुलाकात इन सबसे अधिक बेहतर है।

उन्होंने खुलासा किया कि पहले वह स्कूटर पर शहर के चारों ओर घूमा करते थे, लेकिन बाद में उन्होंने साइकिल को अधिक सुविधाजनक और सस्ता पाया, और यह उन्हें फिट और सक्रिय भी रखता है।

कोविड-19 महामारी के कारण विलंबित कांग्रेस द्वारा संचालित केएमसी के चुनाव अगले साल की शुरुआत में घोषित किए जाएंगे और संभावना है कि पार्टी मोहिते को तीसरे कार्यकाल के लिए टिकट देगी।

Next Story

विविध

Share it