राष्ट्रीय

Odisha News: पुलिस ने पत्रकार को गिरफ्तार कर बेड़ियों में जकड़ा, सामने आई हैरान करने वाली वजह

Janjwar Desk
8 April 2022 6:33 AM GMT
Odisha News: पुलिस ने पत्रकार को गिरफ्तार कर बेड़ियों में जकड़ा, सामने आई हैरान करने वाली वजह
x

Odisha News: पुलिस ने पत्रकार को गिरफ्तार कर बेड़ियों में जकड़ा, सामने आई हैरान करने वाली वजह

Odisha News: ओडिशा के बालेश्वर जिले में एक पत्रकार की गाड़ी थाने के अधिकारी की गाड़ी से क्या टकरायी अधिकारी ने पत्रकार को न सिर्फ गिरादतर किया बल्कि उसे बेड़ियों में जकड़ डाला।

Odisha News: ओडिशा के बालेश्वर जिले में एक पत्रकार की गाड़ी थाने के अधिकारी की गाड़ी से क्या टकरायी अधिकारी ने पत्रकार को न सिर्फ गिरादतर किया बल्कि उसे बेड़ियों में जकड़ डाला।

Etvbharat के मुताबिक पीड़ित पत्रकार की पहचान बालेश्वर जिले के लोकनाथ दलेई के रूप में हुई है। इस घटना को लेकर पत्रकारों में रोष है। स्थानीय पत्रकारों ने बालेश्वर एसपी से मिलकर आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बीते पांच अप्रैल की रात को पत्रकार लोकनाथ दलेई ऑफिस से अपने घर लौट रहे थे। इस दौरान नीलगिरि थाने के अधिकारी की गाड़ी उनकी गाड़ी से जा टकरायी थी। मौके पर ही इसे लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। हालांकि, वहां मौजूद लोगों ने उन्हें समझा-बुझाकर अपने-अपने रास्ते भेज दिया था।


अगली सुबह पुलिस ने लोकनाथ दलेई को होमगार्ड पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। लोकनाथ ने बताया कि उन्हें 12 घंटे तक थाने में रखकर कई तरह की यातनाएं दी गईं। जब उनकी हालत बिड़ने लगी तो उन्हें गुरुवार की रात को बालेश्वर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन दुर्भाग्य की बात यह थी कि उनके पैरों में लोहे की बेड़ियां डाल दी गई थी, ताकि वह कहीं भाग न सके।

घटना के जो वीडियो सामने आए हैं उनमें देखा जा सकता है कि अस्पताल में भी उन्हें बेड पर नहीं बल्कि नीचे लेटाया गया है। पत्रकार के पैरों में बेड़ियां लगाने के बाद अब ओडिशा पुलिस के खिलाफ देशभर के पत्रकारों पर आक्रोश उभर कर सामने आ रहा है।

आप को बता दें कल ही मध्य प्रदेश के सीधी जिले की पुलिस ने पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया था। थाने में कपड़े उतरवाए और फोटो खींचकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। यहां तक कि हवालात में भी इन पत्रकारों को सिर्फ अंडरगारमेंट्स में ही बिठाया था। इन पत्रकारों की गलती इतनी थी कि उन्होंने भाजपा विधायक केदारनाथ शुक्ला के खिलाफ खबरें लिखी थी।

Next Story

विविध