Top
राष्ट्रीय

गोदी मीडिया के खिलाफ Parle-G उतरा मैदान में, कहा नहीं देंगे नफरत फैलाने वाले चैनलों को विज्ञापन

Janjwar Desk
12 Oct 2020 9:45 AM GMT
गोदी मीडिया के खिलाफ Parle-G उतरा मैदान में, कहा नहीं देंगे नफरत फैलाने वाले चैनलों को विज्ञापन
x
पारले कंपनी ने फैसला किया है कि वह जहरीली और आक्रामक सामग्री प्रसारित करने वाले समाचार चैनलों को अब कोई भी विज्ञापन नहीं देंगे.....

नई दिल्ली। भारत के प्रसिद्ध बिस्कुट कंपनी 'पारले-जी (Parle-G)' ने हाल ही में बड़ा फैसला लिया है। दरअसल, पारले के प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी ने यह फैसला किया है कि वह जहरीली और आक्रामक सामग्री प्रसारित करने वाले समाचार चैनलों को अब कोई भी विज्ञापन नहीं देंगे। यह जानकारी 'इंडियन सिविल लिवर्टीज यूनियन' के ट्विटर हैंडल से इस बात की जानकारी दी गई है।

इस ट्वीट में लिखा था, 'पारले कंपनी ने फैसला किया है कि वह जहरीली और आक्रामक सामग्री प्रसारित करने वाले समाचार चैनलों को अब कोई भी विज्ञापन नहीं देंगे। ये चैनल उस प्रकार के नहीं हैं, जिसमें कंपनी अपने पैसे लगाना चाहती हो क्योंकि यह अपने टार्गेट ऑडियंस का पक्ष नहीं लेती हैं। यही समय है, पारले और बजाज की अगुवाई से और भी कंपनियां जुड़ें।'

यह खबर सामने आते ही ट्विटर पर ParleG नंबर वन पर ट्रेंड कर रहा है। पारले-जी के इस फैसले का बडी़ संख्या में लोग समर्थन कर रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व सोशल मीडिया हेड श्रीवत्स ने लिखा, 'ParleG अब रिपब्लिक और अन्य विषाक्त चैनलों के साथ विज्ञापन नहीं करेगा। जल्द ही अर्नब को केवल उस बिस्कुट पर भरोसा करना होगा जो मोदी ने उन पर फेंका!'

फिल्म अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने इस फैसले पर खुशी जताते हुए प्रतिक्रिया दी, थ्री चीयर्स फॉर पारले-जी।

दिल्ली से मोतीनगर से विधायक शिव चरण गोयल ने लिखा, 'पार्ले जी और बजाज ऑटो उद्योगपतियों द्वारा उन चैनलों पर विज्ञापन देना बंद कर देना, जो जहरीली खबरें प्रसारित करते हैं। एक साहसिक कदम, जो देश हित मे अहम योगदान रखता है।'

विंग कमांडर अनुमा आचार्य (सेनि.) ने लिखा, 'पारले जी' ने घृणा फैलाने वाले चैनलों पर विज्ञापन देने का बहिष्कार किया है. नीचे वाली ट्वीट भी देखें और 'पारले जी' को अपना सहयोग दें - यानि कि हर माह ज़रूर ख़रीदें।


Next Story

विविध

Share it