राष्ट्रीय

Newyork times News about modi : भक्तों के आईटी सेल ने मोदी की कराई अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती, NY Times ने कहा नहीं छापी पीएम की तारीफ में यह खबर

Janjwar Desk
29 Sep 2021 5:40 AM GMT
Newyork times News about modi : भक्तों के आईटी सेल ने मोदी की कराई अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती, NY Times ने कहा नहीं छापी पीएम की तारीफ में यह खबर
x

(न्यूयॉर्क टाइम्स ने पीएम मोदी से संबंधित खबर के प्रकाशित होने के दावे को फर्जी बताया है ) pic credit- twitterm

NewYork times about Modi: व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी के इस ज्ञान ने कुछ समय तक सुर्खियां बटोरीं लेकिन वास्तविकता सामने आते ही बेइज्जती हो गई, वो भी इंटरनेशनल वाली, क्योंकि कट पेस्ट वाले फर्जी खबर का खंडन करने के लिए न्यूयॉर्क टाइम्स खुद सामने आ गया..

Network times News about Modi: (जनज्वार)। आखिरकार भक्त मंडली ने पीएम मोदी (PM Modi) की इंटरनेशनल बेइज्जती करा ही दी। न्यूयॉर्क टाइम्स (Newyork times) अखबार के लेआउट और खबर में कॉपी-पेस्ट से छेड़छाड़ कर भक्त मंडली ने न्यूयॉर्क टाइम्स के हवाले से पीएम मोदी की शान में कसीदे गढ़ने वाली खबर सोशल मीडिया पर वायरल करा दी। उस वक्त, जब पीएम खुद अमेरिकी दौरे पर थे।

व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी (Whatsapp University) से पैदा हुए इस ज्ञान ने कुछ समय तक सुर्खियां बटोरीं लेकिन वास्तविकता सामने आते ही बेइज्जती हो गई। वो भी इंटरनेशनल वाली, क्योंकि कट पेस्ट (Cut-paste) वाले उस फर्जी खबर का खंडन करने के लिए न्यूयॉर्क टाइम्स खुद सामने आ गया।

वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार (Ravish Kumar) ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, "भक्तों के पास प्रोपेगैंडा के लिए सामान ख़त्म हो गया है। कुछ मिल नहीं रहा है। व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी के लोगों को मूर्ख बनाए रखने के लिए एक फोटोशॉप (Photoshop) घुमाया गया। इसमें दिखाया गया कि अमरीका के अख़बार न्यूयार्क टाइम्स में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ़ में पहले पन्ने पर विस्तृत ख़बर छपी है कि शुक्र है कि दुनिया को इतने महान नेता मिले हैं।"

वे आगे कहते हैं कि जिस किसी ने ऐसा बनाया है उसने अपने नेता का मज़ाक़ ही उड़ाया है। और अब न्यूयार्क टाइम्स ने ट्वीट (NY times tweet) किया है कि यह पूरी तरह फेक (Fake) है। इसके साथ ही न्यूयार्क टाइम्स ने उन ख़बरों की सूची भी दी है जो भारत को लेकर छपी है। इस सूची में प्रधानमंत्री के हाल के असफल दौरे (Unsuccessful American tour) का ज़िक्र तक नहीं है। यह बहुत अच्छा तो नहीं है कि इतना बड़ा अख़बार भारत के प्रधानमंत्री के दौरे को कवर न करें लेकिन पहले भी जब गए हैं तब उनकी यात्रा का कोई ख़ास कवरेज नहीं हुआ।

रवीश ने तंज करते हुए कहा, "इधर बीजेपी की तरफ़ से दिल्ली में पोस्टर (Midi's posters in Delhi) लगाए जा रहे हैं कि प्रधानमंत्री सफल दौरे से आए हैं। जो लिखा है उसमें भी मूर्खता का प्रदर्शन है। हिन्दी के नाम पर राजनीति करने वाली पार्टी के पोस्टर का वाक्य देखिए। अमरीका की सफल विदेश यात्रा से आने पर अभिनंदन। अमरीका की सफल यात्रा काफ़ी थी, अमरीका की विदेश यात्रा कौन सी हिन्दी है? विदेश की विदेश यात्रा लिखेंगे क्या। यह भी एक तरह से प्रधानमंत्री का मज़ाक़ उड़ाना ही है।"

उन्होंने कहा कि विदेश दौरे से आने का यही मतलब नहीं होता कि आप सफल होकर आए हैं। लेकिन लोगों को यही पसंद है। गाना है न, बेबी को बेस पसंद है। आप जिसे पसंद करते हो, करो लेकिन हर जगह नाक मत कटवाओ।

माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे को बीजेपी काफी सफल बता रही है और इसे एक मुद्दा बनाकर भुनाने की कोशिश भी कर रही है। वहीं, न्यूयॉर्क टाइम्स के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया (Social media) पर भी लोग तरह तरह के कमेंट कर मजे ले रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it