राष्ट्रीय

PM मोदी ने केयर फंड से 1.5 लाख वेंटिलेटर खरीदने का किया ट्वीट, जनता बोली पहले वाले 80 में से 71 पड़े हैं खराब

Janjwar Desk
13 May 2021 5:23 AM GMT
PM मोदी ने केयर फंड से 1.5 लाख वेंटिलेटर खरीदने का किया ट्वीट, जनता बोली पहले वाले 80 में से 71 पड़े हैं खराब
x

file photo

पीएम केअर्स फंड की ओर से मंगाए गए वेंटिलेटर्स की गुणवत्ता पर सवाल उठने लगा है, पिछले साल पीएम केअर्स फंड के तहत पंजाब में उपलब्ध वेंटिलेटर्स की एक बड़ी संख्या उपयोग में नहीं लाई जा रही...

जनज्वार ब्यूरो। प्रधानमंत्री मोदी ने कल बुधवार को एक ट्वीट करते हुए कहा कि PM-CARES के माध्यम से, ऑक्सीकार सिस्टम के 1.5 लाख यूनिट खरीदे जाएंगे। यह DRDO द्वारा विकसित एक प्रणाली है और इसके कई लाभ हैं। प्रधानमंत्री के पिछले वादों और कार्यशैलियों को देखते हुए इस ट्वीट पर भी लोगों ने सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं।

पीएम मोदी के इस ट्वीट पर खोजी पत्रकार नवनीत चतुर्वेदी रिप्लाई करते हुए लिखते हैं कि 'ये जो भी मंगवाया है वो कहाँ किस जगह कौन से हॉस्पिटल में भेजा गया है उसकी पूरी डिटेल चाहिए। पिछले साल पीएम केयर्स वाला वेंटिलेटर भी कबाड़ की तरह कई जगह खराब हुए पड़े है।'

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक पीएम केअर्स फंड की ओर से मंगाए गए वेंटिलेटर्स की गुणवत्ता पर सवाल उठने लगा है। पिछले साल पीएम केअर्स फंड के तहत पंजाब में उपलब्ध वेंटिलेटर्स की एक बड़ी संख्या उपयोग में नहीं लाई जा रही है। इसके पीछे वेंटिलेटर्स की खराब गुणवत्ता वजह बताई जा रही है। कहा जा रहा है कि ये वेंटिलेटर कुछ देर चलने के बाद बंद हो जा रहे हैं।

फरीदकोट के गुरु गोबिंद सिंह मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में आपूर्ति किए गए 80 वेंटिलेटरों में से 71 खराब है। ये वेंटिलेटर AgVa Healthcare द्वारा पीएम केअर्स फंड के तहत प्रदान किए गए थे। मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों का कहना है कि इन वेंटिलेटर्स की गुणवत्ता खराब है और उपयोग के दौरान एक या दो घंटे के भीतर ही बंद हो जाते हैं।

ट्वीटर यूजर श्रीपद पांडे पीएम मोदी को रिप्लाई करते हुए लिखते हैं कि सर अभी भी बहुत देर नहीं हुई है लेकिन पीएम-केयर फंड के उपयोग में देरी हुई है हेल्थकेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने के लिए।

Next Story

विविध

Share it