राजनीति

PM Modi : अर्बन नक्सलियों ने सालों तक ठप रखा सरदार सरोवर बांध का काम, इनके दावे थे झूठे

Janjwar Desk
23 Sep 2022 10:26 AM GMT
upchunav2022
x

(यूपी की लड़ाई में देश की दुहाई)

PM Modi on Urban Naxal : पर्यावरण मंत्रियों के एक सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) ने कहा कि अर्बन नक्सलियों ( Urban Naxal ) ने सरदार सरोवर बांध ( Sardar Sarovar Dam ) का काम कई वर्षों तक रोके रखा। ये अब भी देश के विभिन्न इलाकों में सक्रिय हैं।

PM Modi on Urban Naxal : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Modi ) ने शुक्रवार को पर्यावरण मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल लोगों को वर्चुअल मोड में संबोधित करते हुए कहा कि व्यवसाय को आसान बनाने के मकसद से तैयार परियोजनाओं को पर्यावरण के नाम पर रोकना नहीं चाहिए। अर्बन नक्सलियों ( Urban Naxal ) पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि इन लोगों ने वर्षों से सरदार सरोवर बांध ( Sardar Sarovar Dam ) को ठप कर रखा था। इसमें उनकी मदद विकास विरोधी तत्व भी कर रहे थे।

अर्बन नक्सली ( Urban Naxal ) और और सियासी समर्थन वाले विकास विरोधी तत्वों ( anti development elements ) ने एक अभियान चलाकर सरदार सरोवर बांध ( Sardar Sarovar Dam ) के निर्माण को रोक दिया था। वर्षों से वह तर्क देते रहे कि इस परियोजना से पर्यावरण को नुकसान पहुंचेगा। इन लोगों की वजह से काम ठप रहा और देश का भारी मात्रा में पैसा बर्बाद हो गया। अब, जब बांध पूरा हो गया है तो आप अच्छी तरह से अंदाजा लगा सकते हैं कि उनके दावे कितने संदिग्ध थे।

पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि राजनीतिक समर्थन प्राप्त शहरी नक्सलियों व विकास विरोधी तत्वों ने गुजरात में नर्मदा नदी पर सरदार सरोवर बांध के निर्माण को कई वर्षों तक यह दावा करते हुए रोके रखा कि यह पर्यावरण को नुकसान पहुंचाएगा। ये बात मोदी ने गुजरात में नर्मदा जिले के एकता नगर में राज्यों के पर्यावरण मंत्रियों के दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उद्घाटन करने के बाद कही। उन्होंने कहा कि आप सभी से अपील है कि व्यवसाय को सुगम बनाने या जीवन को आसान बनाने वाली परियोजनाओं को पर्यावरण के नाम पर रोका ना जाए। ऐसे लोगों की साजिश से निपटने के लिए हमारे पास एक संतुलित दृष्टिकोण होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि आज का नया भारत नई सोच नई अप्रोच के साथ आगे बढ़ रहा है। आज भारत जहां तेजी से विकसित होती एक इकोनॉमी है वहीं यह निरंतर अपनी इकोलॉजी को भी मजबूत कर रहा है। हमारे फॉरेस्ट कवर में वृद्धि हुई है और वेटलैंड का दायरा भी तेज़ी से बढ़ रहा है। अपने कमिटमेंट को पूरा करने के हमारे ट्रैक रिकॉर्ड के कारण ही दुनिया आज भारत के साथ जुड़ रही है। बीते वर्षों में गिर के शेरों, बाघों, हाथियों, एक सींग के गेंडों और तेंदुओं की संख्या में वृद्धि हुई है। कुछ दिन पहले मध्य प्रदेश में चीता की घर वापसी से एक नया उत्साह लौटा है।

पीएम ने कहा कि हमने दुनिया को दिखाया है कि रिन्यूएबल एनर्जी के मामले में हमारी गति और हमारा पैमाने को शायद ही कोई छू सकता है। बड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए भारत आज दुनिया को नेतृत्व दे रहा है। मैं देश के सभी पर्यावरण मंत्रियों से अनुरोध करता हूं कि राज्यों में सर्कुलर इकॉनॉमी को ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा दें। इससे ठोस अपशिष्ट प्रबंधन और सिंगल यूज़ प्लास्टिक से मुक्ति के हमारे अभियान को भी ताकत मिलेगी।

Next Story

विविध