Top
राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वतंत्रता दिवस संबोधन में आम आदमी के काम की 10 बड़ी बातें क्या हैं?

Janjwar Desk
15 Aug 2020 4:28 AM GMT
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वतंत्रता दिवस संबोधन में आम आदमी के काम की 10 बड़ी बातें क्या हैं?
x
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने लंबे भाषण में कुछ नई घोषणाएं की हैं, जिसमें नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन सबसे अहम हैं। इसकी बाद दूसरी बड़ी घोषणा यह थी कि बेटियों की शादी की उम्र एक बार फिर बदली जाएगी।

जनज्वार। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज स्वतंत्रता दिवस संबोधन (Prime Minister Narendra Modi Independence Day address) में हमेशा की तरह लंबा भाषण दिया। पिछले सात सालों से वे प्रधानमंत्री के रूप में लाल किले से देश को संबोधित कर रहे हैं। आज उनका भाषण करीब डेढ घंटे लंबा था। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में पूर्व की घोषणाओं को दोहराने के साथ कुछ नई बातें कहीं। उनकी घोषणा की दस नई बात इस प्रकार हैं:

प्रधानमंत्री ने नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन लांच करने का एलान किया। उन्होंने कहा कि आज से ही इसे लागू किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के अनुसार, इस मिशन के तहत देश के हर परिवार का डिजिटल हेल्थ खाता बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कि इस मिशन के तहत हर परिवार को डिजिटल हेल्थ आइडी मिलेगी। उसके तहत परिवार के हर सदस्य के इलाज, रिपेार्ट, दवा, हेल्थ हिस्ट्री का ब्यौरा रहेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बेटियों की शादी की उम्र तय करने के लिए कमेटी बनायी गई है। इसकी रिपोर्ट आते ही इस संबंध में उचित फैसला लिया जाएगा। इस वक्त देश में बेटियों की शादी करने की न्यूनतम उम्र 18 साल है।

प्रधानमंत्री ने एशियाटिक शेरों के संरक्षण के लिए प्रोजेक्ट लायन शुरू करने का एलान किया। उन्होंने कहा कि देश में शेरों व टाइगर की आबादी तेजी से बढी है। पहले से प्रोजेक्ट टाइगर व प्रोजेक्ट एलीफेंट पर काम चला रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डाल्फीन के संरक्षण के लिए प्रोजेक्ट डाॅल्फीन शुरू करने का भी एलान किया। उन्होंने कहा कि इससे पर्यटन को भी बढावा मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि एनसीसी का विस्तार देश के 173 बार्डर व काॅस्टल डिस्ट्रिक्टर तक सुनिश्चित किया जाएगा। इसमें करीब एक तिहाई बेटियों को यह स्पेशल ट्रेनिंग दी जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारे देश में 1300 आइसलैंड यानी द्वीप हैं। इनमें से कुछ चुनिंदा आइसलैंड को उनकी भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हए, देश के विकास में उनके महत्व को ध्यान में रखते हुए नई विका योजनाएं शुरू करने का काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि अगले एक हजार दिन में लक्षद्वीप को भी सबरमीन आॅप्टिकल फाइबर केबल से जोड़ा जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा अपने कार्यकाल में स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना पर काम किए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि अब देश के काॅस्टल एरिया में चार लेन की सड़कों के निर्माण का कार्य किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले एक हजार दिन में देश के हर गांव को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जाएगा। उन्होंने बार्डर एरिया में भी ऑप्टिकल फाइबर का जाल बिछाने का उल्लेख किया।

Next Story

विविध

Share it