पंजाब

पंजाब भाजपा के युवा महासचिव ने कृषि कानूनों के खिलाफ पार्टी से दिया इस्तीफा

Janjwar Desk
31 Oct 2020 4:25 PM GMT
पंजाब भाजपा के युवा महासचिव ने कृषि कानूनों के खिलाफ पार्टी से दिया इस्तीफा
x
बरिंदर सिंह संधू ने ने कहा कि उन्होंने कृषि कानूनों के विरुद्ध अपनी आवाज उठाई लेकिन उसे दरकिनार कर दिया गया, इससे पहले पार्टी के कोर कमेटी के सदस्य मलविंदर कांग और राज्य किसान मोर्चा के प्रमुख तरलोचन सिंह गिल ने इन नए कृषि कानूनों के खिलाफ अपने इस्तीफे दे दिए थे.....

चंडीगढ़। पंजाब भाजपा के युवा महासचिव बरिंदर सिंह संधू ने हाल ही में केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों के खिलाफ शनिवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। पंजाब में महीने अपने पद से इस्तीफा देने वाले वह तीसरे प्रमुख नेता बन गए हैं।

उन्होंने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने कहा कि किसान यूनियन, आढ़ती, छोटे व्यापारी, मजदूर केंद्र द्वारा पारित कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस स्थिति को देखते हुए मैं भाजपा पंजाब युवा महासचिव और पार्टी से इस्तीफा देता हूं।

उन्होंने आगे कहा कि उन्होंने कृषि कानूनों के विरुद्ध अपनी आवाज उठाई लेकिन उसे दरकिनार कर दिया गया।

इससे पहले पार्टी के महासचिव और कोर कमेटी के सदस्य मलविंदर कांग और राज्य किसान मोर्चा के प्रमुख तरलोचन सिंह गिल ने इन नए कृषि कानूनों के खिलाफ अपने इस्तीफे दे दिए थे।

Next Story

विविध

Share it